कृषि संशोधन विधेयक से बढ़ेगा मुनाफा किसान होंगे सशक्त : – डाॅ योगेश पंडाग्रे

Scn news india

आशीष उघड़े 

कृषि सुधार विधायक मोदी सरकार का ऐतिहासिक कदम :-डॉ योगेश पंडाग्रे

खेती को लाभ का धंधा बनाने और किसानों की आय दोगुनी करने का लिए प्रतिबंध है मोदी सरकार – विधायक डॉ योगेश पंडाग्रे

सारनी । केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि संशोधन विधेयक के खिलाफ विपक्ष द्वारा फैलाई जा रही भ्रांतियों को दूर करने के लिए डॉ योगेश पंडाग्रे द्वारा आज ग्राम मयावानी और सलैया में किसानों के साथ बैठक की और किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र कि नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व वाली सशक्त और समर्थ सरकार ने किसानों को सशक्त और समर्थ बनाने के लिए कृषि संशोधन विधेयक 2020 देश की दोनों सदनों से पारित किया है जिसमें खेती को लाभ का धंधा और किसानों की आय को दोगुना करने के लिए सार्थक प्रयास किए गए हैं।

डॉ योगेश पंडाग्रे ने ग्रामीण जनों को संबोधित करते हुए कहा कि इस कृषि संशोधन विधेयक के माध्यम से किसानों को अपनी फसल को बेचने के लिए एक खुला बाजार मिलेगा अपनी फसल को बेचने के लिए किसानों को नए अवसर मिलेंगे जिससे किसानों को फायदा मिलेगा। फसल के भंडारण और विक्रय की पूरी आजादी किसानों को रहेगी जिस पर बिचौलियों के माया जाल से किसान बाहर निकल पाएंगे । डॉ योगेश पंडाग्रे द्वारा कांग्रेस के ऊपर भ्रम फैलाने और किसानों को भ्रमित करने का आरोप लगाया और कहा कि कांग्रेस पार्टी किसानों को कृषि संशोधन विधेयक को लेकर भ्रमित कर रही है न्यूनतम समर्थन मूल्य की बाध्यता समाप्त करने ,मंडियों का अंत करने किसानों की जमीन को पूंजीपतियों के हवाले करने के झूठे भ्रम कांग्रेस नेताओं द्वारा फैलाए जा रहे हैं। जिस पर विधायक डॉ योगेश पंडाग्रे ने कहा कि मंडी व्यवस्था यथावत चलती रहेगी और इस कृषि संशोधन विधेयक का न्यूनतम समर्थन मूल्य से कोई लेना देना नहीं है एमएसपी पहले की तरह मिलता रहेगा।


कार्यक्रम के मंडल प्रभारी सतीश बडोनिया ने किसान सभा को संबोधित करते हुए कृषि संशोधन विधेयक की बुनियादी आवश्यकता और जरूरत को किसानों के बीच में रखा और कहा कि केंद्र की मोदी सरकार हो या प्रदेश की शिवराज सिंह जी की सरकार हो दोनों सरकारें सदैव किसानों के हित में निर्णय लेने के लिए वचनबद्ध है इसी का उदाहरण कृषि संशोधन विधेयक है इस विधेयक के माध्यम से किसान सशक्त समर्थ होगा और किसान को नई तकनीक के माध्यम से खेती करने में सहायता मिलेगी फसल को बेचने की आजादी के साथ भंडारण एवं संरक्षण की भी स्वतंत्रता होगी।

इसके अतिरिक्त किसान सभा को संबोधित करते हुए भाजपा के जिला मंत्री रंजीत सिंह ने कहा कि नरेंद्र मोदी जी की सरकार लगातार किसानों की आय को दोगुनी करने एवं खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए प्रयासरत है केंद्र की मोदी सरकार किसान उपज व्यापार एवं वाणिज्य विधायक के साथ आवश्यक वस्तु संशोधन विधेयक 2020 को भी केंद्र और राज्य सभा से पारित कराया है जिससे कि किसान को अपनी फसल को कहीं भी ले जाकर बेचने की आजादी है एवं कृषि क्षेत्र में संपूर्ण आपूर्ति श्रंखला को मजबूत बनाए जाने का प्रवधान है ग्राम मयावानी में ग्रामीण मंडल अध्यक्ष मोहन मोरे ने किसानों और ग्रामीण जनों को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले 70 वर्षों तक कांग्रेस पार्टी नारा देते थे कि कांग्रेस का हाथ किसान के साथ कांग्रेस का हाथ गरीब के साथ किंतु यह नारा सिर्फ नारा रहता था.

इसके विपरीत कांग्रेस का हाथ हमेशा बिचौलियों और दलालों के साथ रहता था 70 वर्षों तक किसानों का शोषण करने वाली पार्टी आज कृषि संशोधन विधेयक पर प्रश्न उठा रही है जो की हस्यादपद है मयावाणी में किसानों को संबोधित करते हुए भाजपा प्रशिक्षण विभाग के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य कमलेश सिंह ने कहा कि इस विधेयक के माध्यम से किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए किसी के ऊपर आश्रित नहीं रहना पड़ेगा मंडी के अलावा किसानो को मल्टीनेशनल कंपनी को अपनी शर्तों पर फसल को बेचने की आजादी होगी किसान अपनी शर्तों पर फसल को बेचने का अनुबंध करेगा अगर किसान को लगता है कि इस कंपनी के अलावा किसी अन्य जगह पर वह अपनी फसल को ज्यादा मूल्य पर भेज सकता है तो किसान को यह अधिकार होगा कि वह अपने अनुबंध को स्वत: ही निरस्त कर सके कार्यक्रम में प्रमुख रूप से किसान नेता फूलचंद यादव दीपक पटेल राकेश वर्मा रूपेश सिनोटिया मिश्रीलाल परते लिखिराम यादव कनक मार्सकोले परसु मर्सकोले सुरेंद्र नरे ललित यादव सुनील यादव सुभाष यादव शिवराज यादव राकेश साहू जसवंत वरकडे हेमचंद धाकरे शिव वर्मा लक्ष्मण मदन वरकडे पंकज उइके राशो बाई वरकडे गणेश उईके सुखदेव नरवारे बैदनाथ साहू सारनी नगर मंडल अध्यक्ष सुधा चंद्रा मंडल महामंत्री किशोर बरदे नपा सरनी में सांसद प्रतिनिधि दशरथ सिंह जाट नपा उपाध्यक्ष भीम बहादुर थापा प्रकाश शिवहरे योगेश बर्डे विनय मदने अशोक बारंगे जगदीश पवार अजय साकरे राजकुमार नागले नागेंद्र निगम मनोज ठाकुर महेंद्र पवार अंजनी सिंह सुभाष चौकीकर पीके सिंह बॉबी हैदर रामफल साहू पंजाबराव बारस्कर उपस्थित थे ।