अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का छिंदवाड़ा यूनिवर्सिटी के विरोध में जोरदार प्रदर्शन,ज्ञापन सौपा

Scn news india

आशीष उघड़े 

बैतूल -अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा छिंदवाड़ा यूनिवर्सिटी के विरोध में जोरदार प्रदर्शन किया गया। सारनी  बगडोना सहित जिले के समस्त एबीवीपी छात्र संघठन के छात्र-छात्राओं ने जिला मुख्यालय पर विशाल रैली निकाल प्रदर्शन किया। वही जिला कलेक्टर को  मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंप छिंदवाड़ा यूनिवर्सिटी को हटाए जाने की मांग की।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जिला संयोजक निलेश गिरी गोस्वामी ने बताया कि बैतूल जिले के समस्त महाविद्यालय को सत्र 2019/20 छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय में शामिल किया गया है इससे पूर्व बरकतउल्ला विश्वविद्यालय के अधीन था जिससे विद्यार्थी सुविधा अनुसार विश्वविद्यालय से आवागमन कर लिया करते थे। परंतु अब विद्यार्थियों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है जिसके बिंदु कुछ इस प्रकार हैं
1:- विद्यार्थियों को बस एवं ट्रेनो की उचित व्यवस्था ना होना।
2:- बरकतुल्लाह विश्वविद्यालय के बदले छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय का अधिक शुल्क लिया जाना।
3:- जनजातीय बाहुल्य जिला होने के कारण विद्यार्थियों की आर्थिक स्थिति ठीक ना होना।
4:- छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय में छात्रों की समस्याओं के लिए हेल्प लाइन न. ना होना।
5:- सत्र 2019/20 बैतूल जिले के विद्यार्थियों के साथ भेदभाव करते हुए विद्यार्थियों का परीक्षा परिणाम उतीर्ण न होना।
6:- कोविड-19 के चलते छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय की सबसे बड़ी समस्या सामने यह आई की लेट फीस अधिक होने के कारण कई विद्यार्थी परीक्षा देने से वंचित रह गये।


उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की की  जब से छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय से बैतूल जिले के सभी महाविद्यालय को जोड़ा गया है तब से जिले के कई विद्यार्थियों को ऐसी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। विषयांतर्गत अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद आप से यह मांग करती है कि

बैतूल के सभी महाविद्यालय को पुनः बरकतउल्ला विश्वविद्यालय से जोड़ा जाए या बैतूल जिले में सभी महाविद्यालयों की सुविधा के लिए विश्वविद्यालय केंद्र बनाया जाए, अन्यथा संभागीय स्तर पर नर्मदा पुर संभाग का नर्मदा पुर बनाया जाए, अन्यथा संभागीय स्तर पर नर्मदा पुर संभाग का नर्मदा पुर विश्वविद्यालय बनाने की मांग करते हैं।

महोदय जी इन सभी विषयों से विद्यार्थी परिषद आपको अवगत कराती है की विद्यार्थियों की इन समस्याओं को हमारे द्वारा आपके समक्ष रखा जा रहा है अतः आपसे निवेदन है कि विषय को ध्यान में रखते हुए हमारी मांगों को जल्द से जल्द पूर्ण किया जाए अन्यथा विद्यार्थी परिषद संभागीय स्तर पर उग्र आंदोलन के लिए बाध्य रहेगी।