श्रीरामचरितमानस महायज्ञ के अवसर पर संत ब्रह्मानंद जी उदासीन महाराज तपस्थली पर उपस्थित हुए

Scn news india

प्रवीण मलैया 

श्रीरामचरितमानस महायज्ञ के अवसर पर आज पूज्य संत ब्रह्मानंद जी उदासीन महाराज एवं नर्मदा तट पर तपस्या रत नागा जी महाराज माधव गौ विज्ञान अनुसंधान केंद्र हनुमान जी महाराज की सिद्ध कुटी बोरी वाले बाबा की तपस्थली पर उपस्थित हुए ।
साथ ही हरिकेश जी ठाकरे चंपालाल बड़ौदा जी सनी भारद्वाज जी बंटी अमरूते जी कपिल प्रधान जी पिंकेश जी , सरवन जी , मिथुन जी वटके सैकड़ों युवाओं के साथ उपस्थित हुए। महाराज जी ने श्रीरामचरितमानस महायज्ञ के अवसर पर त्रेता युग में विश्वामित्र जी द्वारा किए जा रहे यज्ञ में स्वयं भगवान के द्वारा यज्ञ नारायण की रक्षा के वृतांत को विस्तार से बताया , गौ ग्राम संस्कृति संरक्षण समिति के पूर्णकालिक वीरेंद्र बिल गैया जी ने बताया कि यज्ञ हमारी संस्कृति का अभिन्न अंग है। श्रीरामचरितमानस महायज्ञ समरसता महायज्ञ के रूप में 18 सितम्बर से प्रारंभ होकर के 16 अक्टूबर को पूर्ण होगा।पूर्णाहुति में सम्मिलित होकर यज्ञ नारायण भगवान का आशीर्वाद प्राप्त करें । महा भर चलने वाले इस अनुष्ठान के अंतिम चरण में सभी से सहयोग की अपेक्षा करते हुए सिद्ध कुटी हनुमान जी महाराज एवं बाबा जी की तपस्थली पर अखंड धूनी का दर्शन कर पुण्य लाभ अर्जित करने की अपील की है।*