नगर पालिका में दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी चला रहे है नोटशीट , फर्जी बिल लगाकर निकले जा रही है लाखो की राशि

Scn news india

दिलीप पाल
आमला. नगर पालिका परिषद आमला में इन दिनों फर्जी बिल लगाकर लाखो की राशि निकलने का मामला सामने आया है बताया जा रहा है कि नगर पालिका में दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों द्वारा फर्जी बिल लगाकर लाखो की राशि निकली जा रही है जबकि संबंधित शाखा प्रभारी द्वारा नोटशीट चलाई जा सकती है दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को नोटशीट चलाने के कोई अधिकार नहीं है लेकिन यहां नपा अधिकारी और लेखपाल की मिलीभगत से फर्जी बिल लगाकर दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों से नोटशीट चलाकर लाखो की राशि का व्यय किया जा रहा है जानकारी के अनुसार नगर पालिका में पार्क की देखरेख,ओर कचरा वाहन, टैक्टर के सुधार के लिए फर्जी बिल लगाकर लाखो की राशि निकली जा रही है जबकि पार्क की देखरेख का कोई अधिक खर्च नही आता है उसके बाद भी आए दिन फर्जी बिल लागकर लाखो की राशि निकली जा रही है वही कचरा वाहन के लिए सफाई विभाग के प्रभारी द्वारा नोटशीट ना चलाकर दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों से नोटशीट चलाकर राशि निकली जा रही है समाज सेवक विनोद बेले ने कहा कि नपा में राशि का अभाव बताया जाता है इसके कारण विकास कार्य पूरी तरह से ठप पड़े हुए है इसके बाद खरीदी कैसे की जा रही है फर्जी बिलो से लाखों की राशि निकली जा रही नियम विरुद्ध दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों द्वारा नोटशीट चलाकर लाखो की राशि का व्यय किया जा रहा है।

दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी नही चला सकते नोटशीट

दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी बिल की राशि का व्यय करने के लिए नोटशीट चलाकर राशि निकल रहे है साथ ही फर्जी बिलो को पास कर संबंधित दुकानदार के नाम से उनके खाते में सीधे राशि डाली जाती है जबकि दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी नियम से नोटशीट नही चला सकता है इस विषय मे सीएमओ बी.एल.पंवार ने बताया कि दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी नोटशीट नही चला सकते है अगर ऐसा हो रहा है तो जाच कराई जायेगी।

इनका कहना है…..
मुझे इस बारे में जानकारी नही है अगर ऐसा हो रहा है तो जाँच कराई जायेगी

नीरज कालमेघ प्रशासक तहसीलदार आमला