काजू फसल से संबंधित प्रसंस्करण इकाइयां स्थापित करने हेतु आवेदन आमंत्रित

Scn news india

अलकेश साहू 

बैतूल-उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग द्वारा जिले में काजू प्रसंस्करण इकाइयां स्थापित करने हेतु इच्छुक कृषकों/कृषि उद्यमियों से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं।
उप संचालक उद्यानिकी डॉ. आशा उपवंशी वासेवार ने बताया कि योजनांतर्गत विभिन्न श्रेणी में इस प्रकार सहायता प्रदान की जाएगी-

निजी सूक्ष्म उद्यमों को सहायता
————–
योजनांतर्गत निजी खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों को प्रति उद्योग पात्र परियोजना लागत की 35 प्रतिशत् की दर से क्रेडिट-लिंक्ड पूंजी सब्सिडी परन्तु अधिकतम 10 लाख रूपए दिए जाएंगे। लाभार्थी का योगदान न्यूनतम 10 प्रतिशत् होना चाहिए और शेष राशि बैंक से ऋण होनी चाहिए।
समूह श्रेणी-
———–
योजनांतर्गत छटाई, ग्रेडिंग, जांच, भण्डारण, कॉमन प्रसंस्करण, पैकिंग, विपणन, कृषि उपज का प्रसंस्करण और परीक्षण प्रयोगशालाओं के लिए क्लस्टरों और समूहों जैसे एफपीओ/एसएचजी/उत्पादक समितियों को उनकी सम्पूर्ण मूल्य श्रृंखला को भी सहायता दी जाएगी।

(अ)- किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ)/उत्पाद सहकारिताएं-
—————
योजनांर्गत एफपीओ और उत्पादक सहकारिताओं को क्रेडिट लिंकेज के साथ 35 प्रतिशत् दर से अनुदान एवं ट्रेनिंग सहायता दी जाएगी।

(ब)-  स्व सहायता समूह (एसएचजी)-
————–
समूह को प्रारंभिक पूंजी योजना के अंतर्गत वर्किंग कैपिटल तथा छोटे औजारों की खरीद के लिए एसएचजी के प्रत्येक सदस्य को 40 हजार रूपए की दर से प्रारंभिक पूंजी उपलब्ध कराई जाएगी।
योजना का लाभ लेने हेतु इच्छुक किसान, कृषि उद्यमी/एफपीओ/सहकारी समिति/स्व सहायता समूह उप संचालक उद्यान कार्यालय में सम्पर्क कर योजना की अधिक जानकारी प्राप्त कर आवेदन कर सकते हैं। योजना से संबंधित अधिक जानकारी वेबसाइट http://mofpi.nic.in या www.agriinfra.dac.gov.in पर भी उपलब्ध है।