वन अधिकारियों ने की बेरहमी से पिटाई, पीड़ित ने थाने में की शिकायत

Scn news india

दिलीप पाल 

आमला. दक्षिण वन मण्डल की मोवाड़ बिट में वन अधिकारियों द्वारा एक व्यक्ति के साथ मारपीट करने का मामला प्रकाश में आया है प्राप्त जानकारी के मुताबिक ग्राम बंजारी ढाल निवासी गणेश पिता मंशु बामने मोवाड़ वन परिक्षेत्र अंतर्गत ग्राम पचामा के जंगल मे 27 सितम्बर दोपहर 1.30 बजे जलाऊ लकड़ी लेने पहुँचा था और वन विभाग के अधिकारियों ने उसके साथ मारपीट कर दी चोट इतनी ज्यादा थी कि पीड़ित 2 दिन तक उठ नही सका दो दिन बाद आज आमला थाना पहुचा तो विभाग के अधिकारियों की शिकायत दर्ज की है।

बंजारी ढाल निवासी गणेश बामने ने बताया कि वह जलाऊ लकड़ी हेतु पचामा गया हुआ था , तब वह विभाग के अधिकारियों ने उसके साथ मारपीट शुरू कर दी और कहा कि गांव वालों का हमेशा चोरी का काम करता है और गाली गलौच कर कोरे कागज पर साइन करा लिए इस विषय मे जब वन परिक्षेत्र अधिकारी आर . एस. उइके से चर्चा की गई तो उन्होंने मारपीट की बात को सिरे से खारिज कर दिया जबकि डिप्टी रेंजर अशोक रहाडगले ने सिर्फ चाटा मरना बताया जबकि पीड़ित के पूरे शरीर पर गम्भीर चोट के निशान साफ दिखाई दे रहे है वही पुलिस भी मामले में गम्भीर दिखाई नही पड़ रही है फरियादी सुबह 12 बजे से थाने में शिकायत दर्ज करवाने पहुचा था लेकिन मीडिया कर्मियों के हस्तक्षेप के बाद शाम 5 बजे पुलिस ने कार्यवाही शुरू की वही वन विभाग अधिकारी भी मामले में अधिकारी कर्मचारियों को बचाते हुए दिखाई दे रहे है।