समय-सीमा में निर्माण कार्य पूरे करने के लिये समन्वय से कार्य करें –रीवा कलेक्टर इलैयाराजा टी

Scn news india

कामता तिवारी
ब्यूरो सतना
Scn news india

रीवा- कलेक्ट्रेट के बाणसागर सभागार में नगर निगम क्षेत्र में चल रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने सड़क, फ्लाई ओवर, सीवर निर्माण तथा गैस पाइप लाइन निर्माण की प्रगति की समीक्षा की। कलेक्टर ने कहा कि निर्माण एजेंसियों तथा इनसे जुड़े विभागों में सही समन्वय न होने के कारण निर्माण कार्यों में प्रगति धीमी है। गैस पाइपलाइन के लिये निर्धारित निर्माण कार्य 31 अक्टूबर तक हर हाल में पूरा करायें। सड़क, फ्लाई ओवर तथा सीवर लाइन के निर्माण कार्य की प्रगति की हर सप्ताह जानकारी दें। तय की गई समय-सीमा में ही निर्माण कार्य पूरे करायें। इसके लिये विभिन्न विभाग तथा निर्माण एजेंसियां समन्वय के साथ कार्य करें। सभी निर्माण कार्य उच्च गुणवत्ता के साथ पूरे करायें।
कलेक्टर ने कहा कि चोरहटा से रतहरा तक माडल रोड का निर्माण तभी पूरा हो पायेगा जब सीवर लाइन तथा गैस पाइप लाइन का निर्माण कार्य पूरा हो जाये। सड़क निर्माण पूरा होने के बाद इसे काटने की अनुमति नहीं दी जायेगी। नगर निगम, लोक निर्माण विभाग, ब्रिज कार्पोरेशन तथा गैस पाइप लाइन का निर्माण करने वाली एजेंसी समन्वय से कार्य करें। इनके अधिकारी तथा इंजीनियर मौके पर जाकर निरीक्षण कर निर्माण की कठिनाइयों को दूर करें। सीवर लाइन का हर सप्ताह कम से कम पांच सौ मीटर तथा गैस पाइप लाइन का हर सप्ताह एक किलोमीटर निर्माण कार्य हर हाल में पूरा करें। तभी तय समय सीमा में निर्माण कार्य पूरा होगा। इसके लिये अतिरिक्त संसाधन लगायें। रेलवे ओवर ब्रिज निर्माण के लिये बिजली के पोल की तत्काल शिÏफ्टग करायें। इसके लिये ब्रिज कार्पोरेशन, रेलवे तथा पूर्वी क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी मिलकर प्रयास करें।
कलेक्टर ने कहा कि नगर निगम सड़कों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दे। सड़कों तथा निर्माण स्थलों में हो रहे वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिये उपाय करें। ओवर ब्रिज के नीचे से अनावश्यक निर्माण सामग्री तत्काल हटायें। आयुक्त नगर निगम नगर की सड़कों से आवारा पशु हटाने के लिये तत्काल कार्यवाही करें। माडल रोड निर्माण के साथ नाली निर्माण तथा फुटपाथ निर्माण का भी कार्य प्राथमिकता से करायें। माडल रोड के डिवाइडर आकर्षक बनाकर पर्याप्त ऊंचाई पर लगायें। कलेक्टर ने कहा कि सीवर लाइन, सड़क एवं नाली निर्माण की गुणवत्ता के संबंध में कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण हर सप्ताह रिपोर्ट दें। कलेक्टर ने बैठक से अनुपस्थित कार्यपालन यंत्री सेतु विकास निगम को कारण बताओ नोटिस देने के निर्देश दिये। बैठक में आयुक्त नगर निगम मृणाल मीणा, प्रभारी अधीक्षण यंत्री शैलेन्द्र शुक्ला, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण नरेन्द्र शर्मा, सहायक यंत्री एसके चतुर्वेदी, कार्यपालन यंत्री एसपी शुक्ला तथा कार्यपालन यंत्री राजेश सिंह एवं निर्माण एजेंसियों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।