वेकोलि तथा वन विभाग की बिना अनुमति गाड़े जा रहे विद्युत पोल

Scn news india

आशीष उघड़े 

सारनी। कोयलांचल नगरी पाथाखेडा में इन दिनों वेकोलि तथा वन विभाग की बिना अनुमति प्राइवेट मोबाइल कंपनी के द्वारा विद्युत पोल गाड़े जाने का मामला सामने आया है। बताया जाता है कि उक्त प्राइवेट मोबाइल नेटवर्किंग कंपनी के टावर तक विद्युत पहुंचाने के लिए वेकोलि तथा वन विभाग की जमीन पर बिना अनुमति के विद्युत पोल गाड़ दिए गए हैं। जबकि इस बारे में ना तो वेकोलि अधिकारियों को पता है ना ही वन विभाग के अधिकारियों को। वार्ड के कुछ युवाओं ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया कि उक्त प्राइवेट मोबाइल नेटवर्किंग कंपनी के टावर पर बाजार मोहल्ला से एमपीबीई की विद्युत लाइन को पहुंचाने के लिए विद्युत पोल गाड़े जा रहे हैं, जिस स्थान पर टावर मौजूद है वहां पर फिलहाल में कम से कम तीन से चार विद्युत पोल गाड़े भी जा चुके हैं। इनमें 3 विद्युत पोल वन विभाग की जमीन पर तथा बाकी विद्युत पोल वेकोलि की जमीन पर गाड़े जा रहे हैं। इस मामले में वेकोलि के कार्मिक प्रबंधक दिवाकर लोणारे ने बताया कि जश हॉस्टल के पास विद्युत पोल गाड़े जाने के बारे में हमें जानकारी नहीं है और ना ही हमारे द्वारा किसी को पोल गाड़ने की अनुमति दी गई है। हमने मौके पर सुरक्षा विभाग को भिजवा पता लगाया वहां पर चार-पांच खंबे गाड़ दिए गए हैं। जिसके बाद उन्हें बुलवाया है। ताकि यह पता लगा सके कि किसकी अनुमति से कार्य किया जा रहा है।