मुख्यमंत्री मेधावी विघार्थी योजनान्तर्गत तहसील आमला से लाइफ कॅरियर हायर सकेण्डरी स्कूल के सर्वाधिक 12 विद्यार्थियों ने प्राप्त की लैपटाप 25000रू की राषि-

Scn news india

दिलीप पाल 

लाइफ कॅरियर इंग्लिष मीडियम हायर सेकेण्डरी स्कूल आमला के 12 विद्यार्थियों ने कक्षा बारहवीं बोर्ड परीक्षा में 80 प्रतिषत से अधिक अंक प्राप्त कर तहसील आमला के सभी शासकीय एवं अषासकीय स्कूलों में उत्कृष्ट प्रदर्षन किया। विद्यालय की छात्रा कु.मेघा सोलंकी ने 89 प्रतिषत अंक प्राप्त कर विद्यालय में प्रथम स्थान प्राप्त किया। मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना के अन्तर्गत लैपटॉप राषि प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों में कु.मेघा सालंकी, अमन मोरले, प्रिया माथनकर, कुनाल गव्हाड़े, साक्षी टिकारे, आयुष हारोडे़, सोनाली राठौर, करीना यादव, मोहिनी अड़लक, आर्यन चंदेलकर, दिक्षा सूर्यवंषी, मो.अनस शामिल हैं।
विद्यालय के 24 विद्यार्थियों ने 75 प्रतिषत से अधिक अंक प्राप्त कर प्रावीण्य सूची में स्थान बनाया जबकि कक्षा 12वीं बोर्ड परीक्षा में कुल नामांकित विद्यार्थियों में से 54 विद्यार्थियों ने प्रथम श्रेणी में परीक्षा उत्तीर्ण की। गत वर्ष भी दसवीं बोर्ड परीक्षा का परिणाम 99 प्रतिषत एवं 12वीं बोर्ड परीक्षा का परिणाम 95 प्रतिषत रहा था।
विद्यालय नगर के हद्य स्थली मे स्थित अंग्रेजी माध्यम से संचालित माध्यमिक षिक्षा मंडल द्वारा मान्यता प्राप्त तहसील आमला का पहला इंग्लिष मीडियम हायर सेकेण्डरी स्कूल है- लाइफ कॅरियर स्कूल, जो नर्सरी से कक्षा 12वीं तक संचालित किया जाता है। कक्षा 10वीं एवं 12वीं बोर्ड परीक्षाओं में 90 प्रतिषत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को संस्था द्वारा वास्तविक गोल्ड मैडल प्रदान कर पुरस्कृत कर सम्मानित किया जाता है।
विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के लिए एबेकस, स्पोकन इंग्लिष, आर्ट एवं क्राफ्ट, डांस, योगा, म्यूजिक, कराटे एवं विभिन्न खेलों जैसे क्रिकेट, फुटबॉल, व्हालीबॉल, खो-खो, कब्ड्डी, शतरंज आदि खेलों की समुचित व्यवस्था है। संस्था के विद्यार्थी प्रत्येक वर्ष विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं में राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर बैतूल जिले एवं मध्यप्रदेष राज्य का लगातार प्रतिनिधित्व कर क्षेत्र को गौरान्वित कर रहे हैं। विद्यालय में डिजिटल क्लास रूमस है तथा स्मार्ट क्लासेस द्वारा षिक्षण किया जाता है। शैक्षणिक भ्रमण, कॅरियर गाइडेंस प्रोग्राम तथा विधिक साक्षरता षिविर भी समय-समय पर संचालित किए जाते है। कोविड-19 के प्रभाव को ध्यान में रखते हुए कक्षा नर्सरी से 12वीं तक ऑनलाईन क्लासेस सत्र प्रारंभ से ही निरंतर संचालित की जा रही है।