जिले में 721 पात्र गरीबों को वनाधिकार उत्सव में मिले वनाधिकार पत्र जमीन का हक मिलने से गदगद हुए गरीब वनवासी

Scn news india

कामता तिवारी
ब्यूरो सतना
Scn news india

रीवा -गरीब कल्याण सप्ताह के तहत 19 सितम्बर को जिले भर में वनाधिकार उत्सव आयोजित किये गये। मुख्य समारोह कलेक्ट्रेट के मोहन सभागार में आयोजित किया गया। इसमें 10 हितग्राहियों को वनाधिकार पत्रों का वितरण किया गया। जिला पंचायत की उपाध्यक्ष श्रीमती विभा पटेल, वनमण्डलाधिकारी चन्द्रशेखर सिंह, एडीएम इला तिवारी तथा भाजपा जिला अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह ने हितग्राहियों को समारोह पूर्वक वनाधिकार पत्र का वितरण किया। जिले भर में 721 पात्र गरीब परिवारों को वनाधिकार पत्र का वितरण किया गया। वन अधिकार पत्र मिलने पर हितग्राही जगन्नाथ कोल ग्राम मड़वा तथा देवदत्त कोल ग्राम गढ़वा ने प्रसन्नता व्यक्त की। अन्य हितग्राहियों रामकृपाल कोल ग्राम खामडीह, सोमेश्वर कोल ग्राम हर्दी, राजाराम कोल ग्राम डिहिया, श्रीमती रामरती कोल थनवरिया, श्रीमती शकुन्तला गोड़ ग्राम गड्डी सहिजना, संतोष कोल ग्राम सरई कला ने वनाधिकार पत्र देने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के प्रति आभार व्यक्त किया।
समारोह में जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्रीमती पटेल ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री हर समय गरीबों के कल्याण की चिंता करते हैं। उनके प्रयासों तथा संकल्प का परिणाम है कि पूरे प्रदेश में हजारों गरीब आदिवासी परिवारों को वनाधिकार पत्र आज प्राप्त हो रहे हैं। मुख्यमंत्री जी ने आदिवासियों के कल्याण के लिये शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वरोजगार, खाद्यान्न, सामाजिक सुरक्षा सहित अनेक योजनायें लागू की हैं। गरीब परिवार इनका लाभ लेकर विकास की राह में कदम आगे बढ़ायें। कार्यक्रम में डॉ. अजय सिंह ने कहा कि वर्षों से जमीन पर खेती करकर आजीविका चलाने वाले पात्र परिवारों को आज जमीन का पट्टा दिया गया है। अब वे निर्भय होकर खेती कर सकते हैं। मुख्यमंत्री जी के विशेष प्रयासों से ही गरीबों को विभिन्न योजनाओं का लाभ मिल रहा है। देश के प्रधानमंत्री जी के जन्म दिवस के क्रम में पूरे प्रदेश में मुख्यमंत्री जी ने गरीब कल्याण सप्ताह मनाने का निर्णय लिया है। दो दिन पूर्व जिले की एक लाख से अधिक हितग्राहियों को खाद्यान्न पर्ची का वितरण किया गया। इसी तरह महिलाओं तथा किसानों को भी विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित किया गया। सरकार हर गरीब को विकास योजनाओं का लाभ देने के लिए लगातार प्रयास कर रही है।
कार्यक्रम में जिला संयोजक आदिमजाति कल्याण एसकेएस तिवारी ने वनाधिकार अधिनियम के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिले में अमान्य किये गये 2700 से अधिक दावों में से परीक्षण करके 721 पात्र हितग्राहियों को पट्टे प्रदान किये जा रहे हैं। कार्यक्रम में जिला पंचायत के सदस्य जोखूलाल, जिला पंचायत सदस्य गिरिराज सिंह, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती रामकली, संयुक्त कलेक्टर एके झा, एसडीएम हुजूर श्रीमती फरहीन खान, अनुविभागीय अधिकारी वन श्री मिश्रा, हितग्राहीगण तथा अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे। समारोह में प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के हितग्राहियों से संवाद तथा उद्बोधन एवं आदिमजाति कल्याण मंत्री मीना सिंह के उद्बोधन का सजीव प्रसारण किया गया। समारोह का संचालन सहायक संचालक पिछड़ावर्ग सीएल सोनी ने किया।