लम्पी वायरस ने पसारे पैर,कई मवेशी आये चपेट में

Scn news india

प्रवीण मलैया ब्यूरों 

रानीपुर क्षेत्र  में   वायरस ने लिया मवेशियों को जकड़ में , जिसके चपेट में गाँव  के पालतू पशु  आ रहे है। बताते है कि इस वायरस को रोकने के लिए पशु चिकित्सा विभाग के पास कोई प्रबंध नहीं है। तेजी से फ़ैल  रही  इस बीमारी से पशु पालकों में चिंता और दहशत का माहौल  बना है ।

क्या है इस रोग के लक्षण-

डॉक्टरों के अनुसार ये लम्पी वायरस है जो  मच्छर व मक्खी के काटने  से फैलता है इसमें तेज बुखार 2 से 3 दिनों तक रहता है पशुओं के शरीर पर गठाने निकल जाती है।

सुरक्षा और बचाव के उपचार 

संक्रमित पशुओं को स्वस्थ पशुओं से तुरंत अलग रखना चाहिए,पशुओं को चारागाह के लिए बाहर ना भेजे,पशुओं के रहने वाले स्थान को साफ स्वच्छ रखना चाहिए,संक्रमित पशु को एंटीपयरेटिक, एंटीबायोटिक, एंटिहिस्टिमिनिक, मल्टी विटामिन की दवा आदि दे एवं पशु चिकित्सक से सलाह ले।