वीरान गांव में जोड़ने का ग्रामीणों ने किया विरोध सौपा एसडीएम ज्ञापन

Scn news india

दिलीप पाल
आमला. ग्राम पंचायत रमली का वीरान गांव क्षेत्र जिसका हल्का 13 जो कि 25 वर्ष पूर्व ग्राम पंचायत रमली थी परिसीमन में गलती नादपुर पंचायत में आने का ग्रामीणों ने नाराजगी दर्ज करते हुए जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष सीमा अतुलकर के नेतृत्व में एक सैकड़ा ग्रामीणों ने एसडीएम मुलताई को ज्ञापन सौपा है ग्रामीण जगदीश आलोने,सन्तोष माथनकर, बाबूराव जी कुबड़े, दिनेश ठाकरे रामचरण पाल,रमेश दौड़के दिनेश साहू, बताया कि ग्राम पंचायत आमली का हल्का नंबर 13 भूमि खसरा नंबर 62 एवं रकबा 2487 80 हेक्टेयर भूमि ग्राम पंचायत नानपुर में आती है पिछले करीब 20 वर्ष पूर्व भूमि ग्राम पंचायत आमली में ही आती थी फिर तो अकेली कारणों से भूमि ग्राम पंचायत नागपुर से चली गई है परिसीमन में गलती होने के कारण उक्त भूमि नादपुर पंचायत के अधीन हो गई है जबकि उक्त भूमि ग्राम पंचायत रमली में आना चाहिए था ग्रामीणों को बिना बताए ही भूमि को ग्राम नादपुर के अंतर्गत कर दिया गया है जबकि कमली ग्राम वीरान गाव में आता है ग्रामीणों की मांग है कि उनकी भूमि को रमली पंचायत में जोड़ा जाए एव फिर से परिसीमन कराया जाए इस विषय मे सीमा अतुलकर ने कहा कि ग्रामीणों को बिना बताए ही राजस्व विभाग द्वारा ग्रामीणों की भूमि को वीरान क्षेत्र में जोड़ दिया गया है जिससे कि ग्रामीणों को शासन की योजनाओं का लाभ भी नहीं मिल रहा और तो और विराट क्षेत्र में जुड़ने से जमीनों की कीमत भी कम हो गई अगर जल्दी राजस्व विभाग द्वारा ग्रामीणों की भूमि को ग्राम पंचायत रमली मैं नहीं जोड़ा गया तो कांग्रेश द्वारा उग्र आंदोलन किया जाएगा