कलस्टर फार्मिंग शाहपुर के किसानों के द्वारा अपनी समस्याओं को लेकर सौंपा ज्ञापन

Scn news india

नवील वर्मा
राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के माध्यम से कलस्टर आधारित संरक्षित खेती परियोजना (वर्ष 2017-18) के तहत जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक से ॠण लेकर शेड नेट हाउस मशरूम स्पाॅन उत्पादन युनिट एवं इंटीग्रेटेड पैक हाउस का निर्माण किया हैं जिसमे विभाग के माध्यम से हमारे ॠण खातों में सब्सिडी आना विगत दो वर्षों से शेष है।जिस वजह से हमें बैंक को ज्यादा ब्याज देना पड़ रहा है। साथ ही हमें बैंक से ऋण वसूली मांग पत्र भी प्राप्त हो रहें हैं, उद्यानिकी विभाग द्वारा सभी किसानों के यहाँ भौतिक सत्यापन भी हो चुका है।
वर्ष 2018-19 मे भयंकर सुखा एवं अत्यधिक वर्षा के कारण हमारी उत्पादित फसल को भारी नुकसान हुआ था। और अभी वर्तमान में कोविड महामारी और अत्याधिक वर्षा के कारण हमारी फसल खराब हो गई है। जिससे हमे उद्यानिकी विभाग की नई तकनीक से हमें बंफर उत्पादन के बाद भी प्रकृतिक मार कारण लगातार नुकसान हो रहा है,जिस वजह से हमारी आर्थिक स्थिति दयनीय हो गई है। जिससे हम अपना ॠण जमा करनें में सक्षम नहीं हो पा रहें है।