मुआवजे की मांग को लेकर सैकड़ों किसानों ने सौंपा तहसीलदार को ज्ञापन

Scn news india

दिलीप पाल 

आमला. आमला ब्लाक में अतिवृष्टि एवं पीला मोजक जैसी खतरनाक बीमारी से किसानों की खरीफ की फसल पूरी तरह बर्बाद होगी लेकिन शासन प्रशासन का इस ओर कोई ध्यान नहीं है विगत कई दिनों से हो रही अत्यधिक बारिश के कारण किसानों की फसलें पूरी तरीके से नष्ट हो गई है किसानों द्वारा कई बार मौखिक तौर पर अधिकारियों को अपनी समस्या से अवगत भी कराया गया लेकिन आज तक प्रशासनिक अधिकारियों की सर्वे के लिए टीम का गठन नहीं हुआ और ना ही उन्हें फसल बीमा की राशि का भुगतान किया गया।

आज प्रदेश कांग्रेश प्रतिनिधि मनोज मालवे ब्लॉक कांग्रेस कमेटी सेक्टर अध्यक्ष छविराम यादव जिला उपाध्यक्ष छन्नू बेले के नेतृत्व में ब्लॉक के बोदुड, कलमेश्वर,गार्गोटी,कछार, भुमका ढाना, रामनगर, लिखडी,खाड़ी ढाना, मंगरा,सहित ठप्पा तहसील बोरदेही क्षेत्र के लगभग एक सैकड़ा से अधिक किसानों ने तहसील पहुचकर नयाब तहसीलदार सृष्टि डेहरिया को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौप कर अतिवृष्टि से नष्ट हुई फसलों के मुआवजे की मांग की गई किसानों ने चालीस हजार प्रति हेक्टेयर देने की मांग की गई है इस मौके पर कांग्रेस प्रदेश प्रतिनिधि मनोज मालवे ने कहा कि जब कांग्रेस की सरकार थी ओर शिवराज सिंह चौहान विपक्ष में थे तब किसानों की फसलें बर्बाद होने को लेकर व कमलनाथ सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरे थे तब कमलनाथ सरकार से खराब फसलो का सर्वे कराकर चालीस हजार रुपये प्रति हेक्टेयर के हिसाब मुआवजा राशि देने मांग कमलनाथ सरकार से की थी।

अब जब शिवराज सिंह स्वंय मुख्यमंत्री है तो वह किसानों को चालीस हजार रुपये प्रति हेक्टेयर के हिसाब से किसानों की खराब हुई फसलो का सर्वे कराकर मुआवजा राशि दी जानी चाहिए इस मौके पर कांग्रेस नगर अध्यक्ष लोकेश सोनी, कांग्रेज़ जिला महामंत्री वीरेन्द्र बरते, सेवा दल ब्लाक अध्यक्ष शेख आबिद, जिला सचिव राजेश सूरे, एनएसयूआई ब्लाक अध्यक्ष मनीष नागले यशवंत चिडोकर, अनिल यादव, हरिचन्द्र. गडेवाल,दयाराम यादव, रवि यदुवंशी, गोपाल सूर्यवंशी, आदि उपस्थित थे।