सीधी जिले में प्रभारी तहसीलदार पर हुए जानलेवा हमले के विरोध में जिले के समस्त तहसीलदार एवं नायब तहसीलदारों ने सौंपा ज्ञापन

Scn news india

प्रवीण मलैया ब्यूरों 

सीधी जिले में प्रभारी तहसीलदार पर हुए जानलेवा हमले के विरोध में बैतूल जिले के समस्त तहसीलदारो एवं नायब तहसीलदारों ने कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। घोड़ाडोंगरी तहसीलदार मोनिका विश्वकर्मा, शाहपुर तहसीलदार वैधनाथ वासनिक नायब तहसीलदार वीरेंद्र उइके सहित जिले के तहसीलदारों ने बताया कि सीधी जिले के तहसील कुसमी में पदस्थ हमारे साथी नायब तहसीलदार श्री लवलेश मिश्रा पर कल रात्रि दिनांक 01/09/2020 को भयानक जानलेवा हमला हुआ है ।उनकी स्थिति अत्यंत है , और रीवा मेडीकल कॉलेज में उनका इलाज चल रहा है । अतीत में भी इस तरह की कई घटनाऐ हुई है , लेकिन शासन के स्तर से आज तक हम तहसीलदारो एवं नायब तहसीलदारो को सुरक्षा मुहैया कराने की दिशा में कोई सार्थक , ठोस और स्थायी कदम नहीं उठाए गए हैं । हर बार आश्वासन देकर बात आई गई होकर रह गई है ।

एक ओर शासन हमसे राजस्व विभाग से इतर विभागो के काम जैसे अतिकमण विरोधी अभियान , एंटी – माफिया अभियान , कालाबाजारी विरोधी अभियान , खनिजो के अवैध उत्खनन / परिवहन / भण्डारण के विरूद्ध कार्यवाही , सामान्य प्रशासन विभाग के कार्य आदि तो करवाता रहता है , लेकिन जब पर्याप्त सुरक्षा और आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराने की बात आती है तो वही ढाक के तीन पात । अतः हम सभी तहसीलदारो / नायब तहसीलदारो ने सामूहिक रूप से यह निर्णय लिया है कि अब हम राजस्व विभाग से इतर अन्य विभागों के कार्यों जैसे अतिकमण विरोधी अभियान , एंटी – माफिया अभियान , कालाबाजारी विरोधी अभियान , खनिजो के अवैध उत्खनन / परिवहन / भंडारण के विरूद्ध कार्यवाही सामान्य प्रशासन विभाग के कार्य आदि करने को पूरी तरह सविनय बहिष्कार करेंगे , साथ ही शासन से मांग करते है कि 48 घंटे के भीतर हमारे साथी नायब तहसीलदार श्री लवलेश मिश्रा पर हमला करने वालो को गिरफ्तार कर कडी कानूनी कार्यवाही की जाये एवं हमें सुरक्षा हेतू एक सशस्त्र गार्ड उपलब्ध कराने की दिशा में पर्याप्त सार्थक कदम उठाए जाये अन्यथा हमें लोकतान्त्रिक एवं विधिसम्मत तरीको से विरोध प्रदर्शन करने पर मजबूर होना पड़ेगा ।