पानी उतरते ही होगा फसलों, मकान, सामान के नुकसान का सर्वे

Scn news india

मनोहर

भोपाल-मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान आज होशंगाबाद जिले के बाढ़ में टापू बने गांव बालाभेंट एवं सीहोर जिले के नसरूल्लागंज के ग्राम नीलकंठ में सेना के जवानों के साथ नाव में बैठकर पहुंचे। वे होशंगाबाद जिले के ग्राम सांगाखेड़ा एवं सीहोर जिले के अन्य ग्रामों में भी गए। इन ग्रामों में उन्होंने बाढ़ राहत कायों को देखा, बाढ़ पीड़ितों से बातचीत की तथा उन्हें आश्वस्त किया कि “जब आपका मामा आपके साथ है, तो आपको चिंता किस बात की”। किसी भी व्यक्ति की जान नहीं जाने देंगे तथा बाढ़ से हुए नुकसान का भरसक मुआवजा दिलवाएंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पानी उतरते ही फसलों, मकान, सामान की हानि का सर्वे प्रारंभ किया जाएगा तथा आर.बी.सी. 6/4 के प्रावधानों के अंतर्गत भरपूर सहायता प्रदान किए जाने के साथ ही फसल बीमा का भी पूरा लाभ किसानों को दिलाया जाएगा। श्री चौहान ने कलेक्टर्स को निर्देश दिए कि क्षति का आकलन शांति से तथा वैज्ञानिक तरीके से करें, जिससे पीड़ितों को पूरा-पूरा लाभ मिल सके। इसके लिए पंचनामे के आधार पर कार्रवाई की जाए।