घरों में ही पूरी श्रद्धा भक्ति से भगवान श्रीकृष्ण का जन्मदिन मनाकर उसे महोत्सव बना दिया

Scn news india

रविकांत बिदौल्या हटा 

हटा -इस सदीं की संभवतः यह पहली कृष्ण जन्माष्टमी होगी जब मंदिरों में बड़े सामुहिक आयोजन के अलावा कहीं भी मटकी फोड़ प्रतियोगिता नहीं हुई लेकिन अपने आराध्य का जन्मदिन मनाने वालों ने घरों में ही पूरी श्रद्धा भक्ति से भगवान श्रीकृष्ण का जन्मदिन मनाकर उसे महोत्सव बना दिया ।


हटा सहित आसपास के पूरे क्षेत्र में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर छोटे छोटे बच्चों ने राधा कृष्ण के रूप धरकर घरों में पूजा के स्वरूप को आनंदित करने का प्रयास किया । कोरोना संक्रमण काल की गाइड लाइन के हिसाब से भले ही मंदिरों में बड़े सामुहिक आयोजन नहीं हुए लेकिन घरों के आयोजनों ने इस कमी को दूर कर दिया । नगर के प्रमुख राधाकृष्ण मंदिरों में शामिल बिहारी जी मंदिर , बालाजी मंदिर , रामगोपाल जी मंदिर , लक्ष्मी नारायण मंदिर , सहित अन्य प्रमुख बड़े मंदिरों में पुजारियों द्वारा विधिविधान से पूजा अर्चना कर प्रसाद वितरण किया गया । इस अवसर पर सभी के द्वारा वर्तमान में फैली महामारी से बचाने की प्रार्थना भी भगवान से की गई ।