टांगना में परंपरानुसार मनाया गया विश्व आदिवासी दिवस

Scn news india

प्रवीण गौर ब्यूरों 

इटारसी// आदिवासी सेवा समिति तिलक सेदूर तत्वधान में 9 अगस्त विश्व आदिवासी दिवस रैली के माध्यम से सभी जिला एवं तहसीलों मनाया जाता है प्रत्येक वर्ष अनुसार इस वर्ष समिति ने कोरोना महामारी को लेकर ग्राम टांगना में छोटा सा कार्यक्रम करके परंपरा को निभाया है आदिवासी गोंडी नित्य भाषा संस्कृतिक कार्यक्रम जगह जहां पर किए जाते है जैसे बिरसा मुंडा महावीर एवं रानी दुर्गावती क्रांतिकारी ने आदिवासी लिए लड़ाई लड़ी अपनाया है।

दात्री कुल्हाड़ी जंगल जमीन तीर कमान जैसी परंपरा निभा रहे हैं जैसे खेत की जुताई करने के लिए हल बखर का प्रयोग किया जाता है बिना खाद के किसानी होती थी लेकिन अब यूरिया और डीएपी नहीं होगी तो किसानी नहीं हो पाएगी जिससे जमीन की मिट्टी बहुत कड़क होते जा रही है गांव के लोगों ने छोटे-छोटे खेत पर खाने के लिए गोबर की खाद उपयोग करके मक्का लगाया है जिसका स्वाद बहुत ही पौष्टिक होता है समिति संरक्षक सुरेंद्र कुमार धुर्वे अध्यक्ष बलदेव तेकाम सचिव जीतेंद्र इवने उपाध्यक्ष मन्नालाल दादा एवं गजराज सरेआम जगदीश ककोडिया अवध राम कुमरे शरद कुमार चीचाम राजकुमार पवन मार्सकोले हरभजन मनोहर धुर्वे एवं महिला ने भी हिस्सा लिया,