रक्षाबंधन पर जरूरमंद गर्भवती बहनों के लिए जनसेवा कल्याण समिति ने किया रक्तदान कोरोना काल मे जनसेवा कल्याण समिति की अभिनव पहल

Scn news india

दिलीप पाल ब्यूरों
आमला। कोरोना काल की इस महाविनाशकारी स्थिति के दौर में रक्तदान शिविर आयोजित नही हो रहे है जिससे कई जरुतमन्द महिलाये जिन्हें डिलेवरी के दौरान रक्त की जरूरत पड़ती है उनके सामने संकट की स्थिति बन गयी है जिस दुविधा को लेकर ब्लड बैंक अधिकारी डॉक्टर अंकिता सीते ने आम जनता से रक्तदान करने की अपील की है।


जिसको देखते हुये जनसेवा कल्याण समिति आमला के सदस्यों द्वारा इस बार रक्षाबंधन पर्व के दिन गर्भवती बहनो के लिए रक्तदान करने का सराहनीय निर्णय लिया गया एवं समिति के सदस्यों ने मंगलवार 4 अगस्त को जिला चिकित्सालय पहुँचकर गर्भवती बहनों के लिए रक्तदान किया
गौरतलब है कि जनसेवा कल्याण समिति आमला द्वारा लॉक डाउन प्रारम्भ होते ही ब्लड बैंक में रक्त की कमी को पूरा करने के लिए रामनवमी एवम ईद के दिन भी रक्तदान किया गया था उसके बाद अनलॉक 1 में 135 यूनिट का जिले का सबसे बड़ा रक्तदान शिविर आयोजित किया गया था।


जनसेवा कल्याण समिति के सागर सिंह चौहान ने बताया कि हमारा उद्देश्य हमेशा रहा है अगर हम सक्षम है तो हमे रक्तदान कर जरूरतमन्दों की मदद करना चाहिये।
रक्षाबंधन पर समिति की नयी पहल
समिति सदस्यों द्वारा बीते वर्ष रक्षाबंधन के दिन बहनों को पौधे वितरित किये गये एवं यह वादा लिया गया था कि जिस तरह आप अपने भाई की लंबी उम्र की दुआ करती हो उसी तरह आप इस पौधे की भी सुरक्षा करे जिससे प्रकृति संतुलन में हम अपना योगदान दे सके।
जनसेवा कल्याण समिति के राहुल धेण्डे, अमित यादव ने बताया कि प्रतिवर्ष रक्षाबंधन पर समिति द्वारा जागरूकता के लिए नयी पहल की जाती रही है इस बार लॉक डाउन होने की वजह से ब्लड बैंक में रक्त की कमी है जिससे गर्भवती बहनों को भी रक्त के लिए परेशान होना पड़ रहा था इसलिए हमारी समिति ने रक्षाबंधन के दिन गर्भवती बहनों के लिए रक्तदान करने का निर्णय लिया और समिति सदस्यों ने जिला चिकित्सालय पहुँचकर रक्तदान किया।


लोगो ने की जनसेवा कल्याण समिति की सराहना लॉक डाउन होने से जहाँ एक तरफ लोगो मे भय का माहौल तो वही जनसेवा कल्याण समिति के सदस्यों द्वारा जरूरतमन्दों की मदद के लिये उठाये जा रहे कदम के लिये रक्त की कमी से जूझ रहे लोगो ने सराहना की है।
रक्तदान जागरूकता के लिए कार्य कर रहे सागर शेषकर ने बताया कि जनसेवा कल्याण समिति ने पूरे लॉक डाउन के दौरान हमेशा रक्त की कमी को पूरा करने के लिए प्रयास किया है जिससे काफी हद तक लोगो को रक्त उपलब्ध करवाने में मदद मिलती है।
समिति सदस्यों ने की रक्तदाताओ से रक्तदान की अपील
जनसेवा कल्याण समिति के अध्यक्ष पंकज उसरेठे ने बताया कि लॉक डाउन होने से जिले में रक्तदान शिविर का आयोजन नही हो पा रहा है जिससे जिला चिकित्सालय में रक्त की कमी हो रही है हमारी समिति द्वारा लगातार रक्तदान किया जा रहा है हम रक्तदाताओ से अपील करते है कि सामाजिक दूरी का पालन करते हुए मास्क का उपयोग करते हुए रक्तदाता रक्तदान करे जिससे रक्त की कमी से किसी भी जरूरतमंद की जान न जाये।