बारिश गिरने की कामना करते हुए भोलेनाथ की पिंडी को मिट्टी में दबाया

Scn news india

नवील वर्मा ब्यूरों 

शाहपुर – मौसम विभाग के अनुमान के अनुरूप बारिश का ना होना किसानों के साथ आम लोगों के लिए भी चिंता का विषय है , वही जुलाई के बीत जाने के बाद भी अभी तक वैसी बारिश नहीं हो पाई जैसी आश्यकता है , जिसके चलते अब लोगों ने पुरानी परम्परानुसार टोटके आजमाने शुरू कर दिए है। होशंगाबाद में जहाँ महिलाओं ने इंद्र देवता को प्रसन्न करने  डंडे पीटते हुए नाच गा कर पुरानी परंपरा निभाई तो वही शाहपुर में भी  दशहरा उत्सव समिति के द्वारा बस स्टैंड पर स्थित पीपल महादेव मंदिर के महादेव भोलेनाथ को बारिश गिरने की कामना करते हुए भोलेनाथ की पिंडी को मिट्टी में दबाया।  मान्यता है की  इस मंदिर  में  भोलेनाथ की मूर्ति को मिट्टी में दबाने पर बारिश अवश्य होती है।
बारिश होने के उपरांत इसी जगह पर भगवान सत्यनारायण की कथा की जावेगी एवं भजन कीर्तन प्रसाद वितरण किया जावेगा।