धड़ल्ले से कट रहे सागौन के हरे भरे वृक्ष,वन रक्षक चौकी मैं हर समय लटकता है ताला

Scn news india

रविकांत बिदोल्या 

बनवार-सगोनी वन परिक्षेत्र की सगरा बीट की सगरा नाका रक्षा चौकी मैं हर समय ताला लटकने की वजह से सागौन हरे भरे वृक्षों को  ग्रामीणों के द्वारा जंगल मैं पहुंचकर धड़ल्ले कुल्हाड़ियों से सफाया किया जा रहा है. वही कटे हुए पेड़ों को बेलों जुआड़ी मैं फंसाकर खुलेआम घरो मैं ढोने का सिलसिला जारी है.

ग्रामीणों के द्वारा हरे सागौन के पेड़ों पहले तो काटा जाता फिर किसानी के काम के लिए जंगल से पेड़ो को बेलों के सहारे घरो तंक लाया जाता है और वन विभाग का कोई कर्मचारी वन् नाका चोकी मैं उपस्तिथी नही होने यह सिलसिला वे रोकटोक जारी है। वही जंगलों मैं अवैध उत्खनन के लिए दर्जनो की संख्या मे अवैध खदानें संचालित होने जानकारी ग्रामीणों के द्वारा प्राप्त हो रही जिसपर वन विभाग के आला अधिकारियो का कोई ध्यान नही है!
सगोनी रेंजर गणेश दुवे का कहना है कि मेरे संज्ञान मैं मामला आया था बीटगार्ड को भेजकर गीली सागौन की लकड़ी जप्ती की कार्यवाही की जा रही है!