सर्वोदय अहिंसा ट्रस्ट एवं नन्दीश्वर विद्यापीठ खनियांधाना द्वारा, तीन दिवसीय रक्षाबंधन ई शिविर का शुभारंभ आज से शुरू

Scn news india

स्वप्निल जैन ब्यूरों 

खनियांधाना।
वात्सल्य की महिमा बताने वाला विश्व का सर्वोत्कृष्ट मंगल महोत्सव रक्षाबंधन महापर्व आगामी श्रावण शुक्ल तेरस , चतुर्दशी एवं पूर्णिमा 1 , 2 एवं 3 अगस्त को सर्वोदय अहिंसा ट्रस्ट तथा श्री नंदीश्वर विद्यापीठ के संयुक्त तत्वाधान में ऑनलाइन मनाया जाएगा । जिसके अंतर्गत तीन दिवसीय शिविर का शुभारंभ आज से प्रारंभ हो रहा है । शिविर के मुख्य आमंत्रणकर्ता केवल चंद जी बजाज परिवार बाड़ी (बरेली) रहेंगे तथा शिविर के मुख्य प्रेरणा स्रोत आदरणीय बा. ब्र. पंडित सुमत प्रकाश जी है जिनके मंगल सानिध्य में प्रतिदिन तीनों देश-विदेश के साधर्मी जनों को जिनवाणी का तत्वज्ञान सुनने समझने को मिलेगा ।

शिविर के मीडिया प्रभारी सचिन मोदी एवं दीपक राज जैन छिंदवाड़ा ने जानकारी देते हुए बताया कि यह शिविर युवा विद्वान पं. दीपक शास्त्री ध्रुव , पं. समकित शास्त्री के संयोजन में एवं पं. संजय शास्त्री राष्ट्रीय संयोजक – सर्वोदय अहिंसा के कुशल मार्गदर्शन में आवाल , गोपाल सभी वर्ग के लिए लगाया जा रहा है जिसमें तीन दिवसीय पूजन विधान सहित रक्षाबंधन शिक्षण शिविर का ऑनलाइन आयोजन किया जाएगा ।

रक्षाबंधन के दिन ही वात्सल्य के धनी विष्णु कुमार महामुनिराज ने 700 मुनिराजों के ऊपर आये उपसर्ग को दूर किया था ऐसे वात्सल्य पर्व की महिमा बताने वाले इस शिविर में जैन दर्शन के राष्ट्रीय स्तर के विद्वानों के मंगल प्रवचनों का लाभ समस्त जैन समाज को मिलेगा ।

कोरोना महामारी के चलते इस समय धार्मिक स्थलों पर तथा सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ लगाने की मनाही होने के कारण यह शिविर ऑनलाइन आयोजित किया जा रहा है जिसमें देशभर के श्रद्धालु मोबाइल , टीवी के माध्यम से ऑनलाइन इसमें शामिल होंगे ।

आज प्रथम दिन प्रातः काल में उद्घाटन समारोह आयोजित होगा जिसकी अध्यक्षता देश विदेश के ख्याति प्राप्त विद्वान डॉ. हुकम चंद जी भारिल्ल जयपुर करेंगे तथा मुख्य अतिथि के रुप में बसंत भाई दोषी मुंबई एवं विशिष्ट अतिथि विजय जी बड़जात्या इंदौर उपस्थित रहेंगे । शिविर के आमंत्रणकर्ता केवल चंद जी बजाज परिवार बाड़ी रहेंगे तथा ध्वजारोहण निहाल चंद जी जैन परिवार जयपुर द्वारा किया जाएगा ।
इसके अलावा शिविर के मंडप का उद्घाटन सुनील कुमार जी शास्त्री अहिंसा डायमंड ग्वालियर के द्वारा तथा जिनवाणी विराजमान मुन्ना भाई परिवार कोलकाता द्वारा किया जाएगा । तीन दिवसीय पूजन विधान के आमंत्रण करता श्रीमती रुचिता दीपक जी लोडुआ परिवार जयपुर रहेंगे । आयोजन समिति ने सभी तत्व रसिक समाज से इस आयोजन का घर बैठे ही लाभ लेने की भावना व्यक्त की है ।