रात में ब्रम्हकमल खिलने पर लोगो का लगा तांता

Scn news india

दिलीप पाल ब्यूरो
आमला।बेहद खूबसूरत और पवित्र फूल माना जाने वाला ब्रम्हकमल वर्ष में एक बार खिलता है। यह जिसके घर में खिल जाए उस परिवार को बहुत भाग्यशाली और ब्रह्माजी का आशीर्वाद माना जाता है।
इस बार यह सौभाग्य आमला के कई परिवारों को प्राप्त हुआ है। जैसे ही गुरुवार रात्रि 9:30 के करीब ब्रम्हकमल खिला,
इस दुधिया सफेदी ब्रम्हकमल को देखने के लिए लोगों का तांता लगा गया।
बंधा रोड निवासी गीता यादव, कमला चौहान ने बताया कि जैसे ही ब्रम्हकमल खिलता हुआ दिखाई दिया। उसके बाद से ही विधिविधान से पूजा अर्चना कर सभी को ब्रम्हकमल के महत्व के बारे में भी बताया।


मीना रघड़े, ने बताया कि इस ब्रम्हकमल की खास बात यह है कि इसमें एक साथ तीन फूलों के खिलने से इसकी महत्ता कई गुना बढ़ गई है। ब्रम्हकमल का फूल सूर्यास्त के बाद रात में ही खिलता है और सुबह तक मुर्झा भी जाता है।
ब्रह्म कमल औषधीय गुणों से भी परिपूर्ण होता है। इसे सुखाकर कैंसर रोग की दवा के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इससे निकलने वाले पानी को पीने से थकान मिट जाती है, साथ ही पुरानी खांसी भी काबू हो जाती है। इस फूल की विशेषता यह है कि जब यह खिलता है तो इसमें ब्रह्म देव तथा त्रिशूल की आकृति बन कर उभर आती है।