गुणवत्ताहीन शौचालय निर्माण की जांच अंतिम चरणों में

Scn news india

आशीष उघड़े सारनी 

सारनी -आम आदमी पार्टी बैतूल ने जिला कलेक्टर को गुणवत्ताहीन शौचालय निर्माण की जांच कर कार्यवाही हेतु दिनांक 17 मई 2019 को ज्ञापन दिया था। मीडिया प्रभारी आशीष खातरकर ने बताया, सारणी मे निर्मित शौचालयों की संख्या 4320 थी। जिसकी लागत लगभग ₹06 करोड़ थी। ज्ञापन उपरांत कलेक्टर महोदय द्वारा जांच टीम गठित कर निर्मित स्थल पर भेजा गया जिसमें जांच के दौरान अनुमानित 28 शौचालयों में से 24 शौचालय गुणवत्ता हीन पाए गए थे क्योंकि एस्टीमेट के अनुसार शौचालय के मानक स्तर, डिजाइन व गुणवत्ता नहीं थी। किंतु नगर पालिका परिषद द्वारा उक्त फर्म पर उचित कार्रवाई नहीं की गई बल्कि कार्यादेश की प्रति पूर्व विधायक बेतूल हेमंत खंडेलवाल को भेजी गई।गुणवत्ताहीन कार्य की जांच कर स्वीकृति देने वाले अधिकारी/ कर्मचारी, उपयंत्री, समयपाल, विभागीय अधिकारी पर किसी भी प्रकार की उचित कार्यवाही नहीं की गई। ताकि नगर पालिका परिषद सारणी के अधिकारी/ कर्मचारी भविष्य में विभागीय भ्रष्टाचार में संलिप्त ना हो सके। आम आदमी पार्टी द्वारा इस लापरवाही की शिकायत आवेदन के माध्यम से आमला सारणी विधायक डॉ योगेश पंडाग्रे को की गई थी उनके द्वारा भी इस भ्रष्टाचार को नजरअंदाज कर दिया गया। इससे नाराज आम आदमी पार्टी द्वारा भ्रष्टाचारियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने हेतु नगर पालिका परिषद सारणी के सामने अपनी प्रतिष्ठा दांव पर लगाकर सपन कामला ने मुंडन करा विरोध प्रदर्शन किया। आम आदमी पार्टी के द्वारा उठाई गई शौचालय निर्माण की गुणवत्ताहीन कार्य व कार्य करने वालों पर जिला प्रशासन के द्वारा की जाने वाली कार्रवाई अंतिम चरण पर है।