नही होगी जुलूस रैली, धार्मिक उपासना स्थलों में एक समय में 5 से ज़्यादा व्यक्ति नही रहेंगे उपस्थित

Scn news india

चंद्रमणि विश्वकर्मा 

कोरोना से बचाव हेतु उपायों का कड़ाई से होगा पालन

जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक में आगामी त्योहारों के सम्बंध में सर्वसम्मति से लिया गया निर्णय

अपर कलेक्टर सरोधन सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रैट सभाकक्ष में कोरोना संक्रमण से बचाव एवं सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए आगामी त्यौहार 01 अगस्त को ईदुज्जुहा, 03 अगस्त को रक्षाबंधन, 22 अगस्त को गणेश चतुर्थी एवं 30 अगस्त को मोहर्रम के संदर्भ में जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी बी॰डी॰ सोनवानी सहित सम्बंधित विभागीय अधिकारी एवं ज़िला स्तरीय शांति समिति के सदस्य उपस्थित थे।

बैठक में अपर कलेक्टर सरोधन सिंह ने अवगत कराया कि कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु गृह विभाग के निर्देशानुसार किसी भी धार्मिक कार्य/त्यौहार का सार्वजनिक स्थलों पर आयोजन नहीं किया जा सकता है, न ही कोई धार्मिक जुलूस या रैली निकाली जायेगी। साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर किसी प्रकार की मूर्ति, झांकी आदि स्थापित करने की अनुमति नहीं है। सर्व संबंधितों से अपेक्षा है कि वे अपने-अपने घरों में पूजा/उपासना करें।

धार्मिक/उपासना स्थलों पर कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए यह निर्देश हैं कि एक समय में 05 से अधिक व्यक्ति इकट्ठे न हों। साथ ही उपासना स्थलों पर फेस कवर एवं सोशल डिस्टेंसिंग के मानकों का कडाई से पालन किया जाना सुनिश्चित किया जाए। शांति समिति के सभी सदस्यों ने वर्तमान परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुए उक्त उपायों की उपयुक्तता पर सहमति जताई एवं कोरोना से बचाव हेतु उपायों के पालन के लिए आमजनो से अपील की है।