बिजली बिल वसूली के नाम पर विद्युत वितरण कंपनी कर रही मनमानी,विभिन्न संगठन आऐ सामने सौपे ज्ञापन

Scn news india

  • किसानों के कीमती सामान किये जा रहे जप्त, लोगो में नाराजगी

दिलीप पाल ब्यूरों 

आमला। ब्लॉक का किसान पहले से ही प्राकृतिक आपदाओं से परेशान है। हर वर्ष आने वाली प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसानों को आर्थिक हानि उठानी पड़ रही है। बीते फरवरी माह से कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के कारण हर व्यक्ति परेशान है। दाल रोटी का जुगाड़ करना भी लोगो पर भारी पड़ रहा है। किसान भी आर्थिक परेशानी झेल रहा है ऐसे समय में विद्युत वितरण कंपनी मनमानी पर उतर आई है। बिजली बिल वसूली के नाम पर किसानों के साथ दुर्व्यहार किया जा रहा है। अन्नदाता का अपमान किया जा रहा है और किसानों के कीमती सामानों की कुर्की की जा रही है। पिछले एक पखवाड़े से विद्युत वितरण कंपनी की यह मनमानी लगातार जारी है जिसकों लेकर क्षेत्रं में नाराजगी है। आज विभिन्न संगठनों ने अपनी नाराजगी जताई और ज्ञापन सौंपे। कांग्रेस नेता जितेन्द्र शर्मा के नेतृत्व में राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन तहसीलदार आमला को सौंपा गया। ज्ञापन में कहा गया है कि विद्युत वितरण कंपनी किसानों का अपमान बंद करें। लॉक डाउन के कारण किसान परेशान है इसलियें बिजली बिल जमा करने के लिए लंबा समय दे। ज्ञापन सौंपने पंहुचे कांग्रेस नेताओं ने भाजपा सरकार पर भी निशाना साधा कांग्रेस नेता जितेन्द्र शर्मा, जिला कांग्रेस के महामंत्री विरेन्द्र बर्थे, किसान कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष रविकांत उघड़ें , यूवा कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष अंकित सूर्यवंशी ने कहा कि भाजपा की सरकार अपने आप को किसानों की सरकार बताती है लेकिन किसानों पर अत्याचार कर रही है। जबसे राज्य में भाजपा सरकार बनी है तब से मनमाने बिल आ रहे है सभी बिजली बिल माफ किये जाने चाहिए। वही पिछड़ा वर्ग कांग्रेस के अध्यक्ष मंगलेश कामतकर ने कहा कि किसान अन्नदाता है किसानों का सम्मान किया जाना चाहिए। उनके सामान की कुर्की करकें विद्युत कंपनी किसानों का अपमान कर रही है जो कि हम बर्दास्त नही करेंगे। ज्ञापन सौंपने के बाद कांग्रेस नेता जितेन्द्र शर्मा ने बताया कि जल्द विद्युत वितरण कंपनी के खिलाफ आंदोलन किया जायेगा। ज्ञापन सौंपते समय प्रमुख रूप से कांग्रेस के जिला महामंत्री विरेन्द्र बर्थे, रमेश प्रजापति, अशोक इवने, किसान कांग्रेस के महेन्द्रसिंह परमार,यूवा कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष अंकित सूर्यवंशी, शिवा यादव, कांग्रेस नेता छन्नु बेले सहित बड़ी संख्या मंे कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित थें।