ग्राम पंचायत महरौली में घोटाला,आवास एवं शौचालय निर्माण में हो रही धांधली

Scn news india

स्वप्निल जैन ब्यूरों
खनियांधाना।
खनियांधाना जनपद पंचायत के अंतर्गत आने बाली ग्राम पंचायत महरौली मैं सरपंच सचिव और रोजगार सहायक मिलकर दिन-रात भ्रष्टाचार करने में लगे हुए है ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि हितग्राही मूलक योजना आवास और शौचालय निर्माण में कमीशनखोरी के चलते जमकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है हितग्राही मूलक योजना आवास शौचालय निर्माण मे तहत होने वाले काम में किसी तरह की गड़बड़ी न हो, इसके लिए सरकार द्वारा युक्ति निकाली गई थी कि आवास ओर शौचालय निर्माण का पैसा हितग्राही के खाते में ही जाएगा इसके तहत निर्माण स्थल पर हर रोज मजदूरों की हाजरी मस्टर रोल में भरी जाएगी पैसा सीधे हितग्राही के बैंक खातों में भेजा जाएगा।

इसके बाद भी खनियाधाना जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाली महरौली में ग्राम पंचायत में सरपंच व सचिव की मिली भगत से आवास ओर शौचालय निर्माण में जमकर फर्जीवाड़ा किया जा रहा है ओर सरपंच सचिव यह संपूर्ण निर्माण कार्य खुद ठेके पर लेकर करवा रहे हैं निर्माण कार्य मैं जमकर घटिया सामग्री का उपयोग करके राशि में हेराफेरी की जा रही है इस संपूर्ण घोटाले में आला अधिकारियों की भी पूरी मिलीभगत है ग्रामीणों का कहना है कि एक तरफ तो पूरी पंचायत को ओडीएफ घोषित कर दिया है। लेकिन धरातल पर हकीकत कुछ और ग्राम पंचायत महरौली में ग्रामवासी खुले में शौच के लिए जाने के लिए विवश। गरीबो को नही मिले अभी तक एक भी पक्का आवास। गांव में आधे-अधूरे बने शौचालय खुले में शौच मुक्त की हकीकत बयां कर रहे हैं। आधे से ज्यादा लोंगों को शौचालय योजना का लाभ न मिलने से खुले में शौच के लिए जाने को मजबूर हैं ग्रामवासी। ग्रामीणों ने बताया कि शौचालय के नाम पर उनसे हजारों रुपए की अवैध वसूली की गई है। उन्होंने बताया कि कई बार शिकायत करने पर उनकी सुनी नही जाती है। ग्रामवासियो का कहना है कि भले ही सरकार ने योजनाएं चलाकर गरीबों का भला करने को सोंच रही हो पर उनका लाभ जमीनी स्तर तक नही पहुँच रहा है। खनियांधाना जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत महरौली का हाल बदहाल है। जहां के निवासी शौचालय , और प्रधानमंत्री आवास के लिए रिश्वत देने को मजबूर हैं।