भ्रष्टाचार की आवाज उठाने वालों पर छेड़छाड़ की फर्जी शिकायतें करती हैं प्रभारी महिला प्रधानाध्यापक

Scn news india

  • भ्रष्टाचार की आवाज उठाने वालों पर छेड़छाड़ की फर्जी शिकायतें करती हैं प्रभारी महिला प्रधानाध्यापक।
  • ग्रामीणों ने मैडम के विरुद्ध कलेक्टर पन्ना, जिला सीईओ एवं जिला शिक्षा अधिकारी यहां की शिकायत।
  • शाला प्रवंधन समिति के अध्यक्ष ने स्कूल की प्रभारी महिला प्रधानाध्यापक के विरुद्ध लगाये गंभीर आरोप।

 

पवई अंतर्गत शासकीय माध्यमिक शाला पटोरी की प्रभारी महिला प्रधानाध्यापक के विरुद्ध ग्रामीणों द्वारा कलेक्टर पन्ना, जिला सीईओ एवं जिला शिक्षा अधिकारी के यहां शिकायत करते हुए बताया कि प्रभारी महिला प्रधानाध्यापक सुनीता नामदेव द्वारा बनाए गए किचन शेड निर्माण में शासन के मापदंडों के विपरीत गुणवत्ता विहीन कार्य किया है दरवाजे लेवल पर डाली जाने वाली बीम नहीं डाली गई एवं मिट्टी युक्त लोकल रेत का इस्तेमाल किया गया। निर्माण कार्य छत लेवल तक पहुंच गया जिस पर आजतक कोई कार्यवाही नही हुई इसके पूर्व भी इनके द्वारा घटिया किस्म के शौचालय का निर्माण कार्य कराया था जिसका प्रयोग स्कूल की छात्राएं आज तक नहीं कर सकी।

उक्त भ्रष्टाचार की शिकायत करने पर पूर्व में प्रभारी महिला प्रधानाध्यापक सुनीता नामदेव द्वारा गांव के कुछ लोगों पर महिला का फायदा उठाकर छेड़छाड़ जैसे फर्जी मामले की शिकायतें थाना पवई में कर शिकायतकर्ता पर दबाव बनाया था इतना ही नही इनके विरुद्ध विवेचना करने वाले विभाग के कर्मचारियों पर भी छेड़छाड़ की फर्जी शिकायतें की गई इनके द्वारा गांव के अनेक लोगों पर छेड़छाड़ जैसे गंभीर मामलों की फर्जी शिकायतें पवई थाने में की जा चुकी हैं।

शाला प्रबंधन समिति के अध्यक्ष कमलेश विश्वकर्मा ने स्कूल की प्रभारी महिला प्रधानाध्यापक सुनीता नामदेव पर गंभीर आरोप लगाते हुये बताया कि उनके द्वारा गडवेस राशि के नाम पर 10 चैको पर हस्ताक्षर कर फर्जी तरीके से राशि निकाल कर घटिया निर्माण कराया जा रहा है।

ग्रामीणों ने कलेक्टर पन्ना से किचन शेड निर्माण में प्रभारी महिला प्रधानाध्यापक सुनीता नामदेव द्वारा किये गये भ्रष्टाचार की RES लैब से जांच कराये जा कर उनके विरुद्ध कार्यवाही की मांग की है।