वरिष्ठ पत्रकार के कार्यालय पर जाकर दी जान से मारने की धमकी कार्यालय में की तोड़फोड़

Scn news india

  • वरिष्ठ पत्रकार के कार्यालय पर जाकर दी जान से मारने की धमकी कार्यालय में की तोड़फोड़
  • बीजेपी के सत्ता में आते ही बीजेपी कार्यकर्ता ने दिखाई गुडागर्दी

स्वामी सींग गौड दमोह

दमोह। बुधवार की रात दमोह नगर के अम्बेडकर चौक पर अटल न्यूज पोर्टल के आफिस में घुसकर कुछ लोगों ने संपादक पर प्राणघातक हमला किया। और आफिस में तोड़फोड़ की। संपादक ने खुद को केबिन में बंद कर लिया इसलिये वह लहुलुहान होने से बच गये। इस हमले के दौरान केबिन में बंद रहते उन्होंने कोतवाली टीआई और कुछ पत्रकारों को फोन लगाया जो घटना स्थल पर आये जिसको देख आपराधी भाग गये और उनकी जांन बच सकी। रात मेें ही कोतवाली पहुंच कर संपादक ने आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी, पुलिस ने कहा हम जांच कर कार्यवाही करेंगे।

दमोह जिले में संविधान का चौथा स्तंभ खतरे में नजर आ रहा है जिस तरह से अटल न्यूज पोर्टल के संपादक अटल राजेन्द्र जैन ने कोरोना महामारी के संक्रमण से आम लोगों को बचाने के लिये एक लापरवाही बर्त रहे भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ता और नागरिक, की खबर को उनके नाम से पोर्टल पर अपडेट कर लोगों से उनसे सर्तक रहने आगाह किया तो वह कार्यकर्ता इतने आग बबूला हो गये कि पहले उन्होंने संपादक को मोबाईल पर गाली गलोच की जब इससे उनका मन नहीं भरा तो रसूकों के सह पर वो अपने साथियों के साथ अटल न्यूज पोर्टल आफिस पहुंच गये और आफिस में तोड़फोड़ की। खतरे को भांपते हुए पोर्टल के संपादक ने अपने आप को कम्प्यूटर वाले केबिन में कैद कर लिया और तमाम कोशिशों के बाद भी अपराधी उनके केबिन के दरवाजे को तोड़ने में सफल नहीं हो पाये अन्यथा बहुत बड़ी अनहोनी हो सकती थी। वह गाली गलौच करते रहे आफिस के दूसरे हिस्से में तोड़फोड़ कर भाग गये।
भाजपा के कार्यकर्ता का नाम विशाल शिवहरे(भूरे) बताया गया है। जिनके खिलाफ देर रात संपादक अटल राजेन्द्र जैन ने पत्रकार साथियों के साथ कोतवाली में शिकायत दर्ज करायी। इस दौरान एक बात और सामने आयी कि आरोपी जिस बाइक से आये थे उसे कोतवालीे में रखा गया है जिसकी डिक्की में कुछ सामान था कयास लगाये जा रहे है कि हथियार भी हो सकते है। आरोपी अपने एक साथी के साथ आया और पुलिस की मौजूदगी में से डिक्की खोलकर सामान निकालकर ले गया पुलिस तमाशबीन बनी रही।

संपादक अटल राजेन्द्र जैन ने बताया कि मैने अपने पोर्टल पर एक खबर अपडेट की भूरा गैंग से सावधान। दरअसल फुटेरा वार्ड में एक युवक की कोरोना पाजिटिव रिपोर्ट आयी जिसकी जानकारी जनसंपर्क विभाग द्वारा दी गयी। कुछ लोग उसके (विशाल शिवहरे, भूरे) के साथ रहते है और अस्पताल चैराहे के आसपास घूम रहे थे उन लोगों के नाम कोविड 19 के तहत उनके नाम ओपन तो नहीं कर सकते थे लेकिन उनके संपर्क वालों को सचेत करने मैने यह खबर अपडेट की थी क्योंकि यह चाय पान की होटलोें पर घूम रहे थे लोगों से मिल रहे थे कि लोग इनसे बचें। खबर पोर्टल पर अपडेट करने के कुछ देर बाद भूरे का मोबाइल पर काल आया और गाली गलौंच की। यह भी कहा पत्रकार एक्ट के तहत रिकार्डिंग कर मामला दर्ज करवा दो। 15 मिनिट बाद यह (विशाल शिवहरे, भूरे) गाली गलौच करते हुए सीढियां चढते हुए आफिस आय,े मैने खतरे को भांपा और कम्प्यूटर वाले केबिन का दरवाजा बंद कर अपने आप को उसमें कैद कर लिया। लेकिन यह जो भी हथियार लिये थे उसे दरवाजें पर मारते रहे तोड़फोड़ की और गंदी गंदी गाली देते रहे उसी समय कोतवाली टीआई को और कुछ पत्रकार साथियों को फोन कर घटना की सूचना दी पत्रकारों ने इस पूरे घटनाक्रम की रिकार्डिंग की है। ये मेरे ऊपर प्राणघातक हमला है इसमें रसूकदारों की सह होगी जो इनके कंधंे पर बंदूक चला रहे है, जो मुझे निशाना बनाना चाह रहे है। इसमें भाजपा के बड़े नेताओं का हाॅथ हो सकता है इससे इंकार नहीं किया जा सकता। मैने यदि अपने आप को कम्प्यूटर वाले कक्ष में कैद नहीं किया होता तो मै लहुलुहान हो सकता था। अंबेडकर चौक पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए है पूरी घटना रिकार्ड हुई होगी।
कोतवाली टी आई एच आर पांडे ने बताया कि अटल राजेन्द्र जैन की शिकायत पर विशाल शिवहरे, उर्फ भूरे और एक अन्य साथी पर मामला पंजीबद्ध कर विवेचना की जा रही है। पत्रकार बंधु जो हमारा चैथा स्तंभ है इसको बिल्कुल स्वतंत्र रखा गया है इनके खिलाफ जो भी गंुडागर्दी करेंगा उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी। गाड़ी की डिक्की में ऐसी कोई चीज नहीं थी यदि होगी भी तो हम सीसीटीवी फुटेज को देखकर पता करेंगे।
इस घटना से जिले के पत्रकारों में एक आक्रोश है। और इर तरफ इस घटना की निंदा की जा रही है। जो पत्रकार कोरोना महामारी जैसे संक्रमण के बीच भी जांन हथेली पर रखते हुए सूचना प्रसारण जैसी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी का कार्य पूरी निष्ठा से कर रहे है ऐसे में इस प्रकार की हरकत न केवल समाज के लिये बल्कि दमोह जिले कि तरजीह के लिये ठीक नहीं कही जा सकती। खबर है कि दोपहर में जिले के पत्रकार पुलिस अधीक्षक से मिलकर घटना को अंजाम देने वालों पर कड़ी कार्यवाही करने की मांग कर ज्ञापन सौंपेंगे।