बैंकों के बाहर लोग नहीं कर रहे सुरक्षित दूरी का पालन, बिना मास्क लगाए उपभोक्ता घुस रहे बैंक के भीतर

Scn news india

स्वप्निल जैन ब्यूरों 

खनियांधाना।
नगर में इन दिनों सुरक्षित दूरी को लेकर लोग कतई गंभीर नहीं हो रहे हैं, जिससे कोरोना के फैलने का डर बना हुआ है। नगर के बैंकों में स्थिति यह है कि जहां बैंक प्रबंधन लोगों को शाखा में तो निश्चित संख्या में प्रवेश दे रहे हैं, लेकिन बाहर जुटे ग्राहकों के लिए छाया, पानी व सुरक्षित दूरी का पालन करने के इंतजाम नहीं किए गए हैं। बैंकों में लापरवाही का आलम यह है कि बड़े-बड़े बैनर पोस्टर लगाने के बावजूद बगैर मास्क के धड़ल्ले से उपभोक्ताओं को अंदर घुसने दिया जा रहा है।

बैंक के बाहर उमड़ रही ग्रामीणों की भीड़

बैंक में सबसे बड़ी समस्या ग्रामीण खाताधारकों की है जो की कोरोना संक्रमण को लेकर कतई गंभीर नहीं है। सभी एक साथ बैंक में प्रवेश करने का प्रयास कर रहे हैं। जिसके चलते बैंक के बाहर भीड़ जमा होने लगी है। नगर में गांधी चौक स्थित भारतीय स्टेट बैंक, मध्यांचल ग्रामीण बैंक तथा जिला सहकारी बैंक के अलावा यहां से आठ किमी दूर स्थित पंजाब नेशनल बैंक गूडर का भी यही हाल है। बैंकों में अधिकतर जरूरतमंद लोग पहुंच रहे हैं, जिन्हें या तो कहीं पैसा भेजना है या फिर निकालना है, वहीं गरीब तबके के लोग अपनी पेंशन की जानकारी लेने या फसल खरीदी के पैसे निकालने अथवा अन्य सरकारी योजनाओं की रकम खाते से निकालने पहुंच रहे हैं, जिससे पूरे बैंक समय बैंक के बाहर लोगों की भीड़ लगी रहती है। लोगों ने बताया कि उन्हें न तो शाखा के अंदर बैठने का इंतजाम किए गए हैं। वही बाहर भी धूप, पानी से बचने के लिए छाया का इंतजाम नहीं है। बैंक के गेट पर रोजाना विवाद की स्थिति पैदा हो रही है।