भाजपा कार्यकर्ताओ ने पूर्व मूख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ पर्दशन व पूतलादहन करके आक्रोश जताया

Scn news india

आशीष /आयुष 

सारनी-भारतीय जनता पार्टी मंडल सारणी के द्वारा प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का पुतला दहन जिले के मंत्री रंजीत सिंह, मंडल अध्यक्ष सुधा चंद्रा अनुसूचित जाति मोर्चा के जिला अध्यक्ष किशोर महोबे नगर पालिका उपाध्यक्ष भीम बहादुर थापा सांसद प्रतिनिधि दशरथ सिंह जाट के मुख्य आतिथ्य में पुतला दहन किया गया। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश नेतृत्व जिला नेतृत्व के मार्गदर्शन में आज पूरे संपूर्ण प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का पूतला दहन किया जिन्होंने गांधी परिवार के साथ मिलकर चीन के साथ कई ऐसे समझौते किए जो आज देश को पतन की ओर ले जा रहा है।

इस अवसर पर जिले के मंत्री रंजीत सिंह ने कहा कि कमलनाथ ने गांधी परिवार को चीनी पैसा मुहैया कराने के लिए देश के साथ गद्दारी की है भारत के कुटीर लघु उद्योग तथा व्यापार को एक बहुत बड़ा झटका दिया है। हमारे देश की गांव की मिट्टी लोहा लकड़ी आदि पर आधारित सभी उद्योग को नुकसान पहुचाने का कार्य किया है ।चीनी सामग्री की वजह से देश बर्बाद हो गए ,जिसका एकमात्र कारण उस समय वाणिज्यिक मंत्री रहे चीन को फायदा पहुंचाने के लिये कमलनाथ ने कर व टेक्स मे छुट दी।भारतीय जनता पार्टी मंडल अध्यक्ष ने कहा कि चीन के हाथों बिकने की कांग्रेस की मजबूरी हो सकती है लेकिन भारतीय जनता पार्टी के यशस्वी प्रधानमंत्री ने 2019 में चीन से कोई भी समझौता करने का इंकार कर दिया।

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने व्यापारिक समझौता किया था देश को आर्थिक नुकसान पहुंचाकर गांधी परिवार को फायदा दिलाने के लिए समझौते को भी मोदी सरकार ने मानने से इनकार कर दिया। अपने समय में पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने पावर का भारी दुरुपयोग करते हुए चीन के आयात शुल्क बेहद कम कर दिए गए यह शुल्क 40 से 200% तक कम कर दिया गया।ऐसी लगभग 250 वस्तुओं पर आयात शुल्क को घटाया गया और जिन की उपलब्धता भारत में प्रचुर मात्रा में की गई जिससे भारत के तत्कालीन उद्योग लघु उद्योग कुटीर उद्योग की मार झेलनी पड़ी। कार्यकर्ताओं ने गगनचुंबी नारे चीन का दलाल कमलनाथ कमलनाथ देश का गद्दार कमलनाथ कमलनाथ हाय हाय कमलनाथ मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए बहुत ही आक्रोश के साथ कमलनाथ का पुतला दहन किया ।

इस अवसर पर मुख्य रूप से भाजपा मडल महामत्री किशोर बरदे,जीपी सिह,प्रकाश शिवहरे,विनय मदने,शिबू सिह,नागिन निगम मुकेश यादव सुनील मोखड़े,रेवाशंकर मगरदे,रूपलाल बेलवंशी, नागेन्द्र निगम, मनोज ठाकुर महेंद्र पवार , बाबू सिंह मुकेश जयसवाल राहुल कापसे विनय राय सुनील पाटिल सतीश बोरासी अरुण मकोड़े रमेश हारोड़े, नत्थू देशमुख मारुति पांसे नारायण झर बड़े राहुल बरदे,असीम मंडल आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे