3 लाख 28000 हजार का चेक डेम पहली ही बारिश में ध्वस्त – जिम्मेदार कौन …. ?

Scn news india

बाबा सोलंकी 

भैसदेही -शासकीय पैसों का दुरुपयोग कैसे होता है इसकी बानगी भैसदेही ब्लॉक की जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत रॉक्सी मे देखने को मिली।  जहाँ महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना के तहत मनोहर मुंडे खेत के पास ₹3 लाख 28000 हजार रुपए की लागत से 2 माह पूर्व चेक डैम का निर्माण कार्य पंचायत एजेंसी ने किया था।

जो पहली बारिश में ध्वस्त हो गया और  घटिया निर्माण कार्य की पोल  खुल गई है।  ग्रामीणों का आरोप है  की ग्राम पंचायत एजेंसी सचिव रघु यादव ,सरपंच संगीता मौसिक उपयंत्री अखिलेश चावरे सहायक यंत्री बावरिया की भारी लापरवाही के कारण चेक डैम धराशाई हो गया है और अब जिन किसानों के खेत डैम के आसपास है उन किसानों को भी डैम से पानी का लाभ नहीं मिल पायेगा ।

अब देखना यह है कि सचिव सरपंच व पंचायत एजेंसी चेक डैम का पुनः निर्माण स्वयं के खर्चे से करती है या फिर पंचायत में कहीं और बड़ा घोटाला कर फुटे हुए चेक डैम की भरपाई करेगी। या फिर शासन इनसे उपयोग की गई राशि की रिकवरी करेगा। क्योकि ऐसे निर्माण का क्या औचित्य जो जनता के उपयोग ही में ना आ सके। यदि पहले ही गुणवत्तानुरूप निर्माण किया जाता तो ये हालात निर्मित नहीं होते।  और जनता के पैसों का दुरूपयोग नहीं होता।

ग्रामीण लाखाजी बारस्कर ने बताया कि मेरे द्वारा कई बार रोजगार सहायक सचिव रघु यादव की कार्यप्रणाली को लेकर जनपद पंचायत भैंसदेही एसडीएम से लेकर जिला पंचायत सीईओ कलेक्टर तक शिकायत कर चुके हैं किंतु कार्यवाही के नाम पर सिर्फ आश्वासन ही मिलता रहा है और मेरे द्वारा की गई शिकायतों का आज तक निराकरण नहीं हुआ है।