ताप्ती जन्मोत्सव-जिन माता सेवा समिति सूरत द्वारा भेजी गई 108 मीटर लम्बी चुनरी बारहलिंग पहुंची

Scn news india

अलकेश साहू ब्यूरों
बैतूल , प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी गुजरात के सूरत महानगर स्थित सुप्रसिद्ध तीर्थ स्थल जिन माता सेवा द्वारा पुण्य सलिला माँ सूर्यपुत्री ताप्ती को भेट दी जाने वाली 108 मीटर लम्बी चुनरी एवं सुहाग सामग्री शिवधाम बारहलिंग पहुंची। माँ सूर्यपुत्री ताप्ती जागृति समिति मध्यप्रदेश के अध्यक्ष रामकिशोर पंवार स्वंय चुनरी लेकर शिवधाम बारहलिंग पहुंचे। श्री पंवार के अनुसार देश के इतिहास में शायद पहली बार एक साथ देश – प्रदेश – विदेश के दो दर्जन से अधिक देवी भजनो के गायक / गायिका अपनी संगीतमय प्रस्तुति देने जा रहे है।  देश भर में लागू लॉक डाऊन के चलते ऐसा पहली बार धर्म प्रचार – प्रसार मंच एवं माँ सूर्यपुत्री ताप्ती जागृति समिति मध्यप्रदेश के सांझा प्रयासो से देश – प्रदेश  के दो दर्जन से अधिक देवी – भजनो के गायक – गायिकाओ द्वारा एक मंच पर क्रमानुसार सुबह से लेकर देर शाम तक सोशल मीडिया के सबसे बड़े प्लेट फार्म फेसबुक पर अपनी लाइव प्रस्तुति देगें। शनिवार 27 जून 2020 अषाढ़ शुक्ल सप्तमी को शिवधाम बारहलिंग में सूरत गुजरात से जिन माता सेवा समिति द्वारा भेट की गई 108 मीटर लम्बी चुनरी एवं सुहाग सामग्री माँ पुण्य सलिला जीवन दायनी मोक्ष दायनी माँ सूर्यपुत्री ताप्ती को भेट दी जाएगी।

इसके पूर्व माँ का ध्वजारोहण कर जन्मोत्सव की शुरूआत की जाएगी। हालांकि पहली सुबह से माँ ताप्ती की स्तुति गान देश – प्रदेश के देवी भजन गायक – गायिका क्रमानुसार प्रस्तुत करेगें। धर्म प्रचार प्रसार मंच के संस्थापक रविन्द्र मानकर के प्रयासो एवं सारनी के भजन गायक मनोज कामड़े , चिचोली के दिनेश चढ़ोकार के अथक – प्रयासो से देश – प्रदेश – विदेश के प्रख्यात देची – भजनो के गायक / गायिकाओ को एक साथ एक प्लेट फार्म पर अपनी संगीतमय मधुरवाणी में भजन – चालिसा – आल्हा की प्रस्तुति के लिए क्रमानुसार फेस बुक पर लाइव रहेगें.
माँ सूर्यपुत्री ताप्ती जागृति समिति के प्रदेश अध्यक्ष रामकिशोर पंवार के अनुसार यदि प्रदेश सरकार द्वारा धार्मिक आयोजन पर धारा 144 जारी रखी गई तो वे देवी भण्डारा का कार्यक्रम स्थगित कर स्वंय अपने परिवार के साथ माँ को सुहाग सामग्री एवं चुनरी भेट करने शिवधाम बारहलिंग जाएगें. यहां पर माँ ताप्ती की ध्वजा का रोहण करने के पश्चात सीधे जन्मोत्सव का कार्यक्रम चुनरी भेट कार्यक्रम का फेसबुक पर लाइव प्रसारण होगा. साथ ही सुबह से माँ ताप्ती का भजन कार्यक्रम भी लाइव चलेगा. श्री पंवार के अनुसार सुरत से यदि समय पर माँ ताप्ती की 105 मीटर लम्बी चुनरी पहुंच गई तो वह सम्मान के साथ माँ ताप्ती को भेट की जाएगी. श्री पंवार के अनुसार एक दिन कोरोना महामारी के दौर में भगवान सूर्य नारायण की पुत्री एवं न्याय के देवता शनि महाराज की सगी छोटी बहन – सूर्य छाया पुत्री भद्रा की छोटी बहन माँ पुण्य सलिला राजा कुरू की माता , राजा सवरण की जीवन संगनी पुण्य सलिला सूर्यपुत्री ताप्ती के अषाढ़ शुक्ल सप्तमी 27 जून दिन शनिवार २०२० को आने वाले जन्मोत्ससव में माँ ताप्ती के सम्मान में अपनी लाइव प्रस्तुति देगे।
ताप्ती जन्मोत्सव पर माँ सूर्यपुत्री ताप्ती जागृति समिति ताप्ती नामक मोबाइल एप और समिति की बेव पोर्टल को भी समर्पित करने जा रही है। इन दोनो  पोर्टल एवं एप पर ताप्ती जी को लेकर काफी जानकारी छायाचित्र एवं वीडियों मौजूद है।