खनियांधाना पुलिस ने किया अंधे कत्ल का पर्दाफाश,पाँच आरोपी पकड़े,एक फरार तलाश जारी

Scn news india

स्वप्निल जैन ब्यूरों
खनियांधाना।

खनियांधाना थाना पुलिस ने ग्राम देवरी में हुए अंधे कत्ल का पर्दाफाश कर दिया है। पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपितों ने बताया कि भारतसिंह यादव ने शराब के नशे में मेहताब की पत्नी के साथ छेड़छाड़ कर दी थी। इसके बाद उसे पीट पीटकर मौत के घाट उतार दिया गया। जब भारत की मौत हो गई तो उसे बाइक से उसके खेत पर ले गए और ट्रैक्टर को पाटौर में दे मारा, जिससे घटना एक्सीडेंट लगे, लेकिन पुलिस ने इस अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाकर 5 आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

खनियांधाना थाना प्रभारी आलोकसिंह भदौरिया ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर जब आरोपित जितेन्द्र पुत्र मोकम प्रजापति, अनिल पुत्र मोकम प्रजापति, सदानंद पुत्र हरविलाश कुशवाह, सुखबीर पुत्र हरनाम लोधी, नीलेश पुत्र वीरसिंह यादव निवासी देवरी व मेहताब पुत्र हरसिंह प्रजापति निवासी बसाहर से सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया। इसके बाद इनको गिरफ्तार कर लिया है।

आरोपितों ने बताया कि 19 जून की रात को जितेन्द्र के कमरे पर मृतक भारतसिंह के साथ सभी लोग शराब पी रहे थे। पानी खत्म हो गया तो मेहताब की पत्नी पानी लेकर आई तो भारतसिंह ने उसके साथ छेड़छाड़ कर दी। इसके बाद सभी लोगों ने मिलकर भारतसिंह की पिटाई कर दी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

बाइक पर बैठाकर ले गए उसके खेत पर

आरोपितों ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि भारतसिंह की मौत हो जाने के बाद जितेन्द्र प्रजापति और सुखबीर लोधी उसे बाइक पर बैठाकर उसके खेत पर ले गए, जहां उसे पटक दिया और सुखबीर ने उसका ट्रैक्टर स्टार्ट कर उसे पाटौर में घुसा दिया, जिससे ट्रैक्टर क्षतिग्रस्त हो गया। लोगों को लगे कि भारत ने शराब के नशे में ट्रैक्टर पाटौर में घुसा दिया, जिससे उसकी मौत हो गई।

पांच आरोपितों को किया गिरफ्तार,एक फरार है

पुलिस आरोपित जितेन्द्र, अनिल, सदानंद, सुखबीर और मेहताब को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि एक आरोपित नीलेश यादव फरार है। पुलिस इसकी गिरफ्तारी के प्रयास कर रही है।