आयुष मंत्रालय ने पतंजलि कोरोनिल को दे दी हरी झंडी

Scn news india

मनोहर

आयुष मंत्रालय ने पतंजलि  द्वारा विकसित कोरोना के इलाज का दावा करने वाली दवा  कोरोनिल को दे दी हरी झंडी। इस सम्बन्ध में आयुष मंत्रालय से पत्र प्राप्त हुआ। अब कोरोनिल के बाजार में छाने का रास्ता साफ़ हो गया है। बता दे कि बाबा रामदेव द्वारा कल दवा की लांचिंग की गई थी। जिस दौरान दावा किया गया था कि  कोरोनिल आयुर्वेदिक दवा केवल 7 दिनों में कोरोना संक्रमण को ख़त्म कर देती है।

जिसके बाद आयुष मंत्रालय ने बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि की दवा कोरोनिल के प्रचार-प्रसार पर लगा दी है। केंद्र सरकार ने पहले इस दवा के लिए किए जा रहे दावों की जांच करने का फैसला किया था । वहीं आयुष मंत्रालय ने पतंजलि को चेतावनी दी थी  कि ठोस वैज्ञानिक सबूतों के बिना कोरोना के इलाज का दावे के साथ दवा का प्रचार-प्रसार किया गया तो उसे ड्रग एंड रेमेडीज (आपत्तिजनक विज्ञापन) कानून के तहत संज्ञेय अपराध माना जाएगा।

जिसके बाद बाबा रामदेव की ओर से दवा के दावे की एक रिपोर्ट मंत्रालय को पेश की थी। बताया जा रहा है की आयुष मंत्रालय जवाब से संतुष्ट हो गया है ,और दवा को वैधानिक अनुमति मिल गई है।