दमोह जिले में टिड्डी दल का आक्रमण, फायर बिग्रेड से कीटनाशक दवा का किया छिड़काव तथा

Scn news india

डीजे एवं ढोल बजवाकर टिड्डी दल का किया नियंत्रण

आम जन ने पटाके फोड़े तथा थालिया बजाकर टिड्डी दल भगाया

कीटनाशक छिड़काव से काफी मात्रा में टिड्डी हुये खत्म

ग्रामीण क्षेत्रों में हुआ छिड़काब

कृषकों को सलाह दी गई

स्वामी सींग दमोह

दमोह, जिले में टिड्डी दल पथरिया के ग्राम सीतानगर, मिर्जापुर, बोतराई, केवलारी, सेमरा लखरोनी, उमराहो, जमुनिया, बांसाकला आदि ग्रामों में पहुचंने की सूचना प्राप्त होते ही, उसे भगाने के लिये कलेक्टर श्री तरूण राठी कृषि अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

कलेक्टर श्री राठी के निर्देश पर उप संचालक कृषि आर.एस. शर्मा के अलावा कृषि एवं राजस्व विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे। रात्रि 10 बजे से सुबह 04 बजे तक फायर बिग्रेड से कीटनाशक दवा साइपर मैथ्रिन, प्रोफेनोफास का लगभग 200 लीटर दवा का छिड़काव किया गया, जिससें 60-70 प्रतिशत तक टिड्डियां खत्म हो गई।

आज सुबह टिड्डी दल ने पथरिया सिटी एवं दमोह सिटी में आक्रमण किया। सिटी में ध्वनि विस्तारक यंत्रों डी.जे., ढोल, थाली, डिब्बे तथा सायरन बजाकर टिड्डी दल को भगाया, तथा फायरबिग्रेड से कीटनाशक दवा का छिड़काव किया। आम जनों ने पटाके फोड़कर, अतिशबाजी तथा थालियां बजाकर टिड़डी दल भगाया।

टिड्डी दल नियंत्रण हेतु अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पथरिया श्रीमति भारती मिश्रा, कृषि विभाग के सहायक संचालक श्री जे.एल. प्रजापति, अनुविभागीय कृषि अधिकारी दमोह श्री एस.एल. कुर्मी, अनुविभागीय कृषि अधिकारी हटा श्री पी.एल. कुशवाहा, वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी पथरिया श्री जी.पी. बेन, वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी दमोह श्री आर.के. जैन, जिला सलाहकार श्री गिरवर पटेल, तकनीकी सहायक श्री राघवेन्द्र भारद्वाज, तकनीकी सहायक श्री मनीष गुसाई तथा क्षेत्र के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी एवं पटवारी मौके पर उपस्थित रहे।

कृषकों को दी गई सलाह

कृषकों को सलाह दी गई की टिड्डी दल की सूचना प्राप्त होते ही ध्वनी विस्तारक यंत्र जैसे मांदल, ढोलक, डीजे ट्रैक्टर का सायलेंसर निकालकर आवाज करना खाली टीन के डिब्बे इत्यादि स्थानीय स्तर पर तैयार रखें जिससे कि सामूहिक प्रयास से उक्त ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग किया जा सके फसस्वरुप टिड्डी नीचे आकर फसल /वनस्पति पर न बैठते हुये आगे प्रस्थान कर जाये ।

टिड्डी दल का रात्रि विश्राम की स्थिति में टिड्यिों में प्रभावी नियंत्रण हेतु हस्तचलित स्प्रेयर, पावर ऑपरेटिड स्प्रेयर या ट्रेक्टर ऑपरेटिड स्प्रेयर से रासायनिक कीटनाशक जैसे प्रोफेनोफास 40 ईसी, साईपर मैथ्रिन 4 ईसी की 800 एमएल प्रति हैक्टेयर, डेल्टामैथ्रिन 2.8 ईसी 600 एमएल मात्रा, लैमडासाईहेलोथ्रिन 5 ईसी 500 एमएल मात्रा, मैलाथियान 50 ईसी 1.50 लीटर मात्रा 500 लीटर पानी में घोलकर प्रति हैक्टेयर तथा मैलाथियान 4 प्रतिशत् डस्ट 25 किलो प्रति हैक्टेयर छिड़काव सायंकाल या सुबह 03 बजे से लेकर सुबह 07.30 बजे तक उक्त विधि से टिड्डी दल का नियंत्रण करें।