तीन दिन के अंदर पन्ना हो जाएगा कोरोना मुक्त:सीएमएचओ डॉ एल के तिवारी

Scn news india


डॉ भास्कर दुवेदी की मेहनत लाई रंग , 14 मरीजों का उपचार कर सुरक्षित घर भेजा

अमित त्रिपाठी
पन्ना जिले में लगातार कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने से पूरे जिले में दहशत का वातावरण व्याप्त हो गया था । मगर समय पर जिला कलेक्टर कर्मवीर शर्मा एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एल के तिवारी द्वारा संक्रमित क्षेत्रों में नाकाबंदी करके पीड़ित मरीजों को समय पर जिला चिकित्सालय के कोरोना वार्ड में भर्ती कराया गया था। जहां पर बेहतर उपचार डॉ भास्कर दुवेदी एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा किया गया। जिसके परिणाम स्वरूप एक के बाद एक 15 मरीज स्वस्थ होकर आज घर पहुंच गए हैं। इस खबर के बाद से जिले वासियों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एल के तिवारी ने बताया कि पन्ना जिले में जैसे ही 20 कोरोना मरीजों की संख्या एक के बाद एक पहुंच गई थी। उससे लग रहा था बड़ी तादात में पॉजिटिव मरीज निकल कर सामने आएंगे। मगर जब सैंपल संदिग्ध लोगों के सागर भेजे गए अब वहां से सभी जांच रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त होने के बाद से राहत की सांस ली गई है। इसके साथ ही जिले के लिए एक बड़ी खुशखबरी है कि आज दिनांक 7 जून को पुन्हा 5 मरीज स्वस्थ होकर के घर चले गए हैं। जो कि स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या 15 पहुंच गई है। एक मरीज का उपचार व्यवस्था डॉ प्रदीप दुवेदी मेडिसन विशेषज्ञ एवं उनकी टीम द्वारा किया गया जबकि 14 मरीजों का उपचार डॉ भास्कर दुवेदी एवं उनकी टीम द्वारा किया गया है। अब जिला अस्पताल पन्ना मे भर्ती 5 अन्य मरीजों की 3 दिवस के अंदर उनकी भी जांच रिपोर्ट दूसरी प्राप्त हो जाएगी और यदि नेगेटिव जांच रिपोर्ट प्राप्त होती है तो फिर सभी मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया जायेगा। जिसके बाद से पन्ना जिले में एक भी कोरोना पॉजिटिव मरीज नहीं बचेगा। पन्ना जिले के लिए खुशी का पल होगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एलके तिवारी ने जिले वासियों से अपील करते हुए कहा है कि अभी कोरोना बीमारी आगामी दो-तीन माह तक चलता रहेगा। इसलिए सावधानी रखना प्रत्येक नागरिक की जिम्मेदारी है।
डॉक्टर एलके तिवारी ने कहा कि भीड़भाड़ वाले क्षेत्र में मास्क का उपयोग अवश्य करें साथ ही साबुन से हाथ साफ करते रहें। ताकि किसी भी प्रकार का संक्रमण ना हो सके। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना की बीमारी से घबराना नहीं है। इसका उपचार संभव है। इसलिए किसी भी प्रकार की अफवाहों में ना पड़े और अपने आवश्यक काम को करते रहें। सावधानी इतना रखना है कि जब भी काम पर निकले तो मास्क का उपयोग करें। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एल के तिवारी ने जानकारी देते हुए बतलाया कि पन्ना जिले में जो 20 को रोना पोजिटिव मरीज पाए गए थे। उनमें एक गर्भवती महिला थी एक डायबिटीज मरीज था एक टीवी मरीज था जिनका भी डॉ भास्कर दुवेदी द्वारा उपचार किया गया और पूरी तरह से तीनों मरीज स्वस्थ होकर घर पहुंच चुके हैं। जो कि जिले के लिए सबसे बड़ी खुशी की खबर है कि इतनी बड़ी घातक बीमारियां होने के बाद भी सभी मरीजों को बचाया गया है। इसके लिए डॉ भास्कर दुवेदी एवं पूरी टीम बधाई की पात्र है। मरीजों के उपचार व्यवस्था में डॉ भास्कर दुवेदी स्टाफ नर्स उज्जवला कविता सपना प्रियंका स्नेहलता विनीता अभिलाषा ज्योती शिवानी अनुजा सारिका एवं निधि का सराहनीय योगदान रहा है। जो मरीज स्वस्थ होकर घर पहुंचे हैं उनमें 7 बरबसपुरा ग्राम के थे दो अजयगढ़, एक मकरी , एक श्यामगिरी , एक बिलघाड़ी , एक घाट सिमरिया , एक देवरी का मरीज स्वस्थ होकर घर पहुंच चुके हैं। शेष 5 मरीजों का उपचार जारी है । जो कि 3 दिवस के अंदर स्वस्थ होकर घर जाने की संभावना बताई जा रही है । यदि भेजे गए सैंपल में अब कोई भी कोरोना पॉजिटिव मरीज नहीं आता है तो निश्चित रूप से पन्ना जिला कोरोना मुक्त हो जाएगा।
अमित त्रिपाठी पन्ना