कांग्रेस के नेता बताएं- कोल माइन के लिए क्यो नही हुआ जमीन अधिग्रहण

Scn news india

प्रवीण सोनी 

सारनी। भाजपा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष कमलेश सिंह ने कहा है कि 2 महीने पहले तक प्रदेश की सत्ता में काबिज कांग्रेस के नेताओं को यह बताना चाहिए कि उनकी सरकार में नई कोल माइन के लिए जमीन का अधिग्रहण क्यों नही हुआ। जो काम कांग्रेस के कार्यकाल में 15 महीने में नही हुआ वही काम सता बदलते ही विधायक डॉ योगेश पण्डागरे ने 15 दिन में ही कैसे करा लिया। क्षेत्र की जनता यह अच्छी तरह जानती है कि कोल माइन के लिए जमीन अधिग्रहण में अड़ंगा किसने लगाया। भाजपा नेता ने आरोप लगाया कि कांग्रेस के नेताओं ने ग्रामीणों को गुमराह कर जमीन अधिग्रहण में रोड़े अटकाए।

विधायक डॉ योगेश पण्डागरे ने गांधी ग्राम में घर घर जाकर लोगों से सम्पर्क किया और नई कोल माइन के लिए ग्रामीणों की सहमति प्राप्त की। ग्राम सभा की सहमति मिलने के बाद कांग्रेसी नेताओं ने सत्ता के पावर का दुरुपयोग कर कई महीनों तक जमीन का अधिग्रहण नही होने दिया। विधायक डॉ पण्डागरे ने जनता के साथ सड़क पर उतरकर आंदोलन किया। प्रदेश में सत्ता बदलते ही विधायक के प्रयासों से जमीन अधिग्रहण का अवार्ड पारित हो गया। अब शीघ्र ही सांसद दुर्गादास उइके और विधायक डॉ पण्डागरे के प्रयास से नई कोल माइन का भूमि पूजन होगा। अब कांग्रेस को इस मामले में ओछी राजनीति नही करनी चाहिए।