12 से अधिक ग्राम पंचायतों के सरपंच,सचिवों पर उदासीनता पड़ी भारी,कारवाही के आदेश

Scn news india

12 से अधिक ग्राम पंचायतों के सरपंच,सचिवों पर उदासीनता पड़ी भारी

बीआरजीएफ के काम पूर्ण न कराने पर कारवाही 

सीईओ जिला पंचायत ने दिये कारवाही के आदेश

रविकांत बिदौल्या हटा
बीआरजीएफ योजना के तहत अपूर्ण कार्य कराया जाना 12 से अधिक ग्राम पंचायतों को सरपंच और सचिवों को भारी पड़ा। सीईओ जिला पंचायत डॉ गिरीश मिश्रा ने संबंधितों के विरूद्ध कार्यवाही के निर्देश दिये हैं। इन ग्राम पंचायतों मादो, भिड़ारी, मुराछ, खमरिया कलार, शिवपुर, रेवझाकला, हरपालपुर, पटना कुम्हारी, राजाबंदी, चौपरा, चिलौद, कलेहराखेड़ा, बकैनी, मारा और छापरी शामिल है। गौरतलब है कि इन ग्राम पंचायतों के सरपंच और सचिवों को बीआरजीएफ योजना के अंतर्गत निर्माण कार्यो को निर्धारित समय अवधि में पूरा कराना था, जो कि अब तक अपूर्ण है, इस पर सख्ती दिखाते हुये सीईओ जिला पंचायत डॉ मिश्रा ने कार्यवाही के आदेश दिये है।

सरपंच, सचिव से करें वसूली-उपयंत्री को थमाया शोकॉज

सीईओ जिला पंचायत ने जनपद पंचायत हटा के तहत ग्राम पंचायत मादो में स्वीकृत आंगनबाड़ी एवं सामुदायिक भवन पूर्ण नहीं कराये जाने पर तत्काल सचिव पर धारा बी-121 के तहत प्रकरण दर्ज कराया है।

इसी प्रकार ग्राम ‍भिड़ारी एवं मुराछ में 5-5 लाख रूपये की राशि से स्वीकृत सामुदायिक भवन अब तक पूर्ण नहीं होने पर सरपंच एवं सचिव के विरूद्ध धारा 92 के तहत प्रकरण दर्ज करते हुये वसूली के आदेश दिये हैं । ग्राम पंचायत खमरिया कलार में भी स्वीकृत सामुदायिक भवन कार्य पूर्ण नहीं होने पर सरपंच, सचिव के विरूद्ध प्रकरण दर्ज करते हुये संबंधित उपयंत्री को नोटिस जारी किया गया हैं। डॉ मिश्रा ने ग्राम पंचायत निवास में स्वीकृत सामुदायिक भवन कार्य पूर्ण कराये जाने के लिये भी सरपंच, सचिव, उपयंत्री और सहायक यंत्री को सख्त लहजे में निर्देशित किया हैं। साथ ही ग्राम पंचायत शिवपुर में प्राथमिक शाला भवन के कार्य को 15 दिवस में पूर्ण करने के स्पष्ट आदेश दिये हैं।

जनपद पंचायत पटेरा की इन ग्राम पंचायतों पर कार्यवाई

डॉ मिश्रा ने जनपद पंचायत पटेरा अंतर्गत ग्राम पंचायत रेवझाकलॉ और हरपालपुरा में स्वीकृत आंगनबाड़ी भवन कार्य, ग्राम पंचायत पटना कुम्हारी में स्वीकृत आंगनबाड़ी भवन तथा ग्राम पंचायत राजाबंदी में स्वीकृत आंगनबाड़ी भवन पूर्ण नहीं होने पर संबंधित सरपंच और सचिव के विरूद्ध बी-121 के तहत प्रकरण दर्ज करने के आदेश दिये ।

जनपद पंचायत जबेरा के अंतर्गत इन ग्राम पंचायतों के सरपंच-सचिवों पर कार्यवाई

डॉ मिश्रा के निर्देश पर जनपद पंचायत जबेरा चिलोद में स्वीकृत आंगनबाड़ी भवन-2 के संबंध में सरपंच, सचिव के विरूद्ध धारा 92 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया। ग्राम पंचायत चौपरा में स्वीकृत आयुर्वेदिक डिस्पेंसरी के कार्य को पूर्ण करने के लिये 7 दिनों का समय दिया गया, पूर्ण नहीं कराने पर सरपंच, सचिव के विरूद्ध धारा बी-121 के तहत प्रकरण दर्ज करने की कार्यवाई के निर्देश डॉ मिश्रा ने दिये। ग्राम पंचायत कलेहरा खेड़ा में स्वीकृत राशन गोदाम कार्य पूर्ण नहीं होने से सरपंच, सचिव के विरूद्ध धारा 92 तहत प्रकरण दर्ज किया गया।

जनपद पंचायत पथरिया की इन ग्राम पंचायतों पर कार्यवाई

डॉ मिश्रा ने जनपद पंचायत पथरिया अंतर्गत ग्राम पंचायत बकेनी के सामुदायिक भवन के कार्य को पूर्ण करने 15 दिवस का समय दिया तथा ग्राम पंचायत मारा, छापरी की सीसी चैक कराने के निर्देश दिये।

उल्लेखनीय है कि विगत वर्षों से ऐसे कार्य जिनमें कार्यपूर्ति, उपयोगिता प्रमाण पत्र प्रस्तुत नहीं किये है, ऐसी 54 ग्राम पंचायतों के सरपंच, सचिवों को नोटिस जारी कर सीईओ जिला पंचायत ने समक्ष में सुनवाई करते हुये संबंधितों पर यह कार्यवाई की है। सचिव ग्राम पंचायत कौशलपुर, सुरई, सूखा, बम्होरीमाला द्वारा संबंधित कार्यो के पूर्णता प्रमाण पत्र प्रस्तुत किये गये, शेष कार्यपूर्ति प्रमाण पत्र हेतु सरपंच, सचिव, सहायक यंत्री, उपयंत्रियों को समय-सीमा निर्धारित कर शीघ्र सीसी जारी करने के निर्देश मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डॉ गिरीश मिश्रा ने दिये।