भूमिहर किसान अन्नदाताओं की समस्याओं के निराकरण को लेकर युवा नेता दीपेश पटेरिया ने मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन।

Scn news india

रविकांत बिदौल्या हटा
हटा-प्राकृतिक आपदाओं के कारण सोयाबीन, उड़द इत्यादि फसलों के नष्ट हो जाने के बाबजूद भी किसानों ने कर्ज लेकर अपने परिवार का पेट काटकर नई फसलों का उत्पादन किया लेकिन फसलों का अच्छा उत्पादन हो जाने के बाद भी फसलों का सही दाम किसानों को प्राप्त नहीं हो रहा है। हमारे अन्नदाताओं ने विपत्तियों और अभावों को सहकर खरीदी का इंतजार किया लेकिन आज किसान अपने आपको ठगा हुआ महसूस कर रहा है। किसानों की इन सभी समस्याओं पर ध्यान देने व समस्याओं का निराकरण शीघ्र कराये जाने हेतु दीपेश पटैरिया एवं किसान बंधुओं द्वारा मुख्यमंत्री के नाम से एसडीएम हटा राकेश मरकाम को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया है कि सायलो केन्द्रों पर किसान भाई लगातार 4 — 5 दिनों तक वाहनों के साथ खड़े रहते है न तो वहॉं पर छाया की कोई व्यवस्था है और न ही वहॉं पीने के लिए पानी की, खरीदी की तिथि 10 दिवस बढ़ाई जाये ताकि जो किसान लॉकडाउन में नहीं पहॅंच सके उनकी फसल की भी खरीदी हो सके, चने के फसल की खरीदी को केन्द्र में चालू किया जाये, फसल बीमा की राशि शीघ्र ही किसानों के खातों में भुगतान किया जाये, प्राकृतिक आपदाओं से ग्रस्त फसलों के मुआवजे की बची हुई किस्तों का भुगतान किसानों के खातों में तत्काल किया जावे, किसान कर्जमाफी से वंचित किसानों को योजना का लाभ दिया जाकर कर्जमाफी की जावे। किसानों के साथ सौतेला व्यवहार किया जाकर यदि किसानों की इन सभी समस्याओं का निराकरण शीघ्र नही किया जाता तो जनहित के लिए किसानों के साथ आंदोलन किये जाने की चेतावनी ज्ञापन के माध्यम से दी गई है।