शाहपुर NH 69 के माध्यम से भोपाल से उड़ीसा पैदल जाने को मजबूर 5 मजदूर,नहीं मिली सरकार की तरफ से कोई मदद

Scn news india

नवील वर्मा ब्यूरों 

नेशनल हाईवे 69 पर तीन पुरुष व दो महिला पैदल जाते हुए नजर आए पूछने के बाद पता लगा कि वह मजदूरी करने भोपाल किसी ठेकेदार द्वारा लाए गए थे लेकिन तीन-चार दिन ठेकेदार द्वारा काम दिया उसके बाद काम नहीं है कह कर इन्हें इनके हाल पर छोड़ दिया जिसके चलते इनके सामने दो वक्त की रोटी का संकट आन पड़ा था तब यह मजदूर पैदल ही भोपाल से उड़ीसा के लिए निकल पड़े जब इनसे इनकी खाने-पीने के विषय में पूछा गया तो इनका कहना था।

हमारे पास चने रखे हुए हैं जो हम खा लेते हैं और पानी पी लेते हैं अगर रास्ते में कोई हमें भोजन करा देता है तो हम कर लेते हैं हम 3 दिन पहले से भोपाल से निकले हुए हैं। उड़ीसा कब तक पहुंचते हैं हमें मालूम नहीं कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देश में लाक डाउन लागू है ऐसे में परिवहन के लिए बस आदि नहीं चल रही है जिसके चलते मजदूरों को अपने घरों तक जाने के लिए कोई संसाधन नहीं मिलने पर पैदल ही निकल पड़ते हैं।

बता दे की भोपाल से निकले मजदूरों को शाहपुर तक कोई सुविधा नहीं मिली किन्तु जैसे ही मजदूरों के पैदल जाने की खबर स्थानीय प्रशासन को मिली उन्होंने तत्काल उन्हें क्वारेंटाइन सेंटर में रुकवा करा उन्हें भोजन कराया एवं आवश्यक सामग्री भी उपलब्ध कराई ।

इनका कहना है –

हमें मजदूरों के शाहपुर से पैदल गुजरने की सुचना मिली वैसे थी तत्काल उनके रुकने की व्यवस्था की गई एवं खाने पिने की  व्यवस्था के आलावा मजदूरों का स्वास्थ्य परिक्षण भी कराया गया है। कल उन्हें बैतूल भेजा जाएगा जहाँ से वे उचित परिवहन व्यवस्था के माध्यम से  आगे की यात्रा के लिए रवाना होंगे ।

नरेंद्र सिंह ठाकुर ,तहसीलदार  शाहपुर