सेन समाज ने मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

Scn news india

स्वामी सींग दमोह

दमोह। जिला समाज सेन द्वारा मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन कलेक्टर महोदय को सौंपा गया। जिलाध्यक्ष मुकेश सेन ने जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना महामारी के चलते लगभग दो माह से लाॅक डाउन के कारण केशशिल्पीयों कि दुकानें पूर्ण रूप से बंद है और 3 मई को मप्र सरकार के द्वारा अन्य व्यवसाय खोलने स्वीकृति प्रदान कर दी गई है ऐसे में केवल केशशिल्पी परिवारों को भरण पोषण का गंभीर संकट आन पढ़ा है साथ ही लाॅक डाउन के दौरान केशशिल्पी परिवारों पर दबंगों द्वारा काम ना करने के कारण अत्याचार बड़ा है जिसके कुछ एक मसले मीडिया के माध्यम से सरकार और आमजन मानस के सामने भी आए।

केशशिल्पी दमोह (सेन समाज) के द्वारा पहले भी 3 मई को एक ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम सौंपा गया था पर सरकार द्वारा सौतेला व्यवहार कर वकीलों एवं कर्मकांड़ी ब्रहम्णों को आर्थिक सहायता प्रदान कर रहे है जहां हमें इससे वंचित रखा गया जबकि सरकार का मानना है कि सैलून और पार्लर से इसके संक्रमण का खतरा ज्यादा है ऐसे मंे केशशिल्पी परिवारों को भी परिवार के भरण पोषण हेतु आर्थिक सहायता प्रदान की जाएं। साथ ही कहा कि शीघ्र ही हमारी मांगों पर विचार किया जाएं वरना हमें परिवारों सहित भूख हड़ताल पर बैठने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी सरकार की होगी। इस मौके पर विवेक सेन, राजकुमार सेन, बंटी सेन, सत्यम सेन, कपिल सेन, मिंटू सेन, सुरेश सेन, धीरज सेन, रवि सेन, गोलू सेन, फूलचंद्र सेन, मूलचंद सेन, दुर्गेश सेन, कम्मू सेन, मनीष कुमार सेन, सुशील सेन, आशीष सेन, मोहित सेन, नितिन सेन, सतीष सेन, मुकेश सेन, शेरू सेन, रमेश सेन आदि की मौजूदगी रहीं।