मैदानी क्षेत्रों में पहुंचेंगे जिला स्तरीय अधिकारी सरकार के कार्यक्रमों का डोर-टू-डोर कराया जाएगा क्रियान्वयन

scn news india


बैतूल,
जिले में वन मित्र सॉफ्टवेयर के माध्यम से निरस्त वनाधिकार पत्रों का सत्यापन, उज्जवला योजनांतर्गत नए गैस कनेक्शन प्रदान करने हेतु शेष हितग्राहियों का डाटा अपडेशन, समग्र डाटाबेस का अपडेशन, दस्तक अभियान का क्रियान्वयन, बीपीएल से अपात्रों का हटाया जाना, रंगीन मतदाता परिचय पत्र तैयार करवाया जाना जैसे कार्यक्रमों के संचालन के शत्-प्रतिशत् परिणाम लाने के उद्देश्य से जिला स्तर के समस्त अधिकारी ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचेंगे एवं मैदानी अधिकारियों के सहयोग से डोर-टू-डोर उक्त कार्यक्रमों का सत्यापन एवं क्रियान्वयन सुनिश्चित करेंगे।

कलेक्टर श्री तेजस्वी एस. नायक ने जिले में किए जा रहे इस अभिनव प्रयास की सुव्यवस्थित रणनीति तैयार की है। रणनीति के तहत जिले में 60 क्लस्टर बनाए गए हैं, जिनमें प्रत्येक में लगभग 10-10 ग्राम पंचायतें शामिल की गई है। समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में यह तय किया गया कि 16 सितंबर सोमवार को क्लस्टर प्रभारी जिला स्तरीय अधिकारी प्रत्येक क्लस्टर के मैदानी अधिकारियों की बैठक लेकर उनको संचालित होने वाले कार्यक्रमों की विस्तार से जानकारी देंगे एवं डोर-टू-डोर कार्यक्रम की रूपरेखा बताएंगे। यह बैठक क्लस्टर मुख्यालय वाले गांव में पूर्वान्ह में आयोजित होगी। मंगलवार एवं बुधवार को यह मैदानी अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र के ग्रामों में डोर-टू-डोर जाकर उक्त कार्यक्रमों की ग्रामीणों को जानकारी देंगे, आवश्यक जानकारी का सत्यापन तथा संकलन करेंगे।

कलेक्टर ने बताया कि अभियान के दौरान मुख्यत: किए जाने वाले कार्य- वन मित्र सॉफ्टवेयर अंतर्गत निरस्त दावों की सूची के सत्यापन हेतु अधिकार पत्रधारियों को चिन्हित कर आगामी प्रक्रिया में लाना, उज्जवला योजनांतर्गत गैस कनेक्शन प्रदाय करने हेतु शेष हितग्राहियों का डाटा तैयार करवाना, दस्तक अभियान अंतर्गत बच्चों का शत्-प्रतिशत् टीकाकरण सुनिश्चित करना तथा गर्भवती व धात्री महिलाओं का समय पर स्वास्थ्य परीक्षण व उसको आर्थिक सहायता हेतु जानकारी का आशा कार्यकर्ता द्वारा अद्यतन किया जाना, देखा जाएगा। इसके अलावा संबल हितग्राहियों का सत्यापन जैसे कार्य भी डोर-टू-डोर किए जाएंगे। ग्रामीणों को ब्लैक एण्ड व्हाइट परिचय पत्र रंगीन में बदलवाने के अभियान की जानकारी देकर उनके परिचय पत्र रंगीन में तब्दील करवाने का भी इस दौरान कार्य किया जाएगा। अभियान में सामाजिक सुरक्षा पेंशन के हितग्राहियों का भी सत्यापन सुनिश्चित होगा। क्लस्टर अधिकारी मैदानी अधिकारियों द्वारा किए जाने वाले उक्त डोर-टू-डोर कार्य पर पूरी निगरानी रखेंगे।

मैदानी कर्मचारियों को आवश्यक रूप से उपस्थित रहने के निर्देश

——————————
कलेक्टर श्री नायक ने निर्देश दिए हैं कि सोमवार के दिन क्लस्टर स्तर पर होने वाली बैठक में क्लस्टर अंतर्गत आने वाली समस्त ग्राम पंचायतों के पटवारी, ग्राम सेवक, रोजगार सहायक, स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी/आशा कार्यकर्ता, महिला एवं बाल विकास के कर्मचारी तथा उचित मूल्य की दुकान के सेल्समेन सहित अन्य कर्मचारी आवश्यक रूप से उपस्थित रहेंगे। बैठक में कर्मचारियों की अनुपस्थिति को गंभीरता से लिया जाएगा। इसके अलावा डोर-टू-डोर कार्यक्रम में कर्मचारी पूरी जिम्मेदारी के साथ काम करेंगे, यह भी सुनिश्चित किया जाएगा।
कलेक्टर, अपर कलेक्टर एवं सीईओ जिला पंचायत भी रहेंगे भ्रमण पर
——————————
अभियान की प्रभावी मॉनीटरिंग के दृष्टिगत कलेक्टर श्री तेजस्वी एस. नायक, अपर कलेक्टर श्री साकेत मालवीय एवं सीईओ जिला पंचायत श्री एमएल त्यागी भी इस दौरान समूचे जिले का भ्रमण करेंगे। उक्त अधिकारी रेण्डमली किसी भी क्लस्टर में पहुंचकर क्रियान्वयन की रूपरेखा देखेंगे।
कलेक्टर द्वारा अभियान की प्रगति के संबंध में सोमवार को अपरान्ह में आयोजित समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में समीक्षा की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!