स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंचते ही , एक शटर बंद तो एक शटर खुली छोड़ भागे झोलाछाप डाक्टर

scn news india

प्रद्युम्न फौजदार 

बड़ामलहरा/समूचे क्षेत्र में झोलाछाप बंगाली डाक्टरों की भरमार के चलते ना केवल मरीजों की जेब पर डाका डाला जा रहा है बल्कि लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ करने पर आमदा है जिस पर लगाम लगाने के मकसद से बड़ामलहरा बीएमओ के नेतृत्व में सड़वा गांव पहुंची टीम की खबर लगते ही वहां प्रैक्टिस करने वाले दो झोलाछाप बंगाली डॉक्टरों में से एक शटर डाउन करके भाग गया तो दूसरा शटर खुली छोड़ कर भाग गया। ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर डॉ हेमंत मरैया के नेतृत्व में बड़ामलहरा ब्लॉक के सड़वा गांव पहुंची टीम ने छापामार कार्रवाई की जिसमें सड़वा में बस्ती की ओर जाने वाले तिगड्डे पर अज्जू साहू के मकान में क्लीनिक संचालित करने वाला बंगाली डाक्टर शटर डाउन करके भाग गया।

बीएमओ डा.हेमंत मरैया ने बताया कि शटर खोलने पर एलोपैथी दवाएं बरामद हुई जिसमें अधिकतर दवाइयां डेट एक्सपायर हो चुकी थी जिन्हें नष्ट करा दिया गया है। झोलाछाप बंगाली डाक्टर की मकान मालिक से जानकारी चाही मगर मकान मालिक ने जानकारी नहीं दी जिस पर साथ गए पुलिस अमले ने किरायेदारों की पूरी जानकारी रखने की सख्त हिदायत दी इसके अलावा बस्ती के भीतर मंदिर के नजदीक अंकित खरे नामक बंगाली डॉक्टर क्लीनिक का शटर खुला छोड़कर भाग गया उक्त दुकान के मालिक को भी स्वास्थ्य और पुलिस अमले ने सख्त हिदायत और समझाइश दी। एक सवाल के जवाब में डा.हेमंत मरैया ने बताया कि मौके पर दोनों डाक्टरों के न मिलने से मकान मालिक को हिदायत और समझाइश देने के अलावा कोई कार्यवाही नहीं की जा सकी। सड़वा गांव में छापामार कार्रवाई करने वाली टीम में सुपरवाइजर बीपी शुक्ला,बीपीएम दयाराम अहिरवार तथा पुलिस बल शामिल रहा।स्वास्थ्य अमले की टीम द्वारा आज की गई कार्यवाही से क्षेत्र के झोलाछाप डाक्टरों में हड़कंप मचा हुआ है डा.मरैया ने एक सवाल के जबाब में कहा कि यह कार्यवाही सतत जारी रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!