महिला बाल विकास विभाग ने चौपाल लगाकर दी जानकारी

scn news india

अलकेश साहू 

झल्लार -राष्ट्रीय पोषण माह कार्यक्रम के अंतर्गत जिला कार्यक्रम अधिकारी बीएल विश्नोई के निर्देशन में बाल विकास परियोजना भैंसदेही द्वारा परियोजना अधिकारी श्रीमती उषा मसीह की विशेष उपस्थिति में ग्राम चिल्कापुर में पोषण चौपाल का आयोजन किया गया।जिसमें ग्राम की महिलाओं ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। इस अवसर पर परियोजना अधिकारी श्रीमती उषा मसीह ने गर्भवती धात्री महिलाओं को पौष्टिक साग सब्जी, अंकुरित दालें, मूंगने की पत्ती, फल -फूल का उपयोग कर आसानी से आयरन युक्त भोजन बनाने के तरीकों से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पौष्टिक आहार की सख्त आवश्यकता होती है और भोजन में पौष्टिकता बढ़ाने के लिए विविध प्रकार के व्यंजनों एवं सब्जियों का उपयोग कर हम आसानी से पौष्टिकता को प्राप्त कर सकते हैं। परियोजना अधिकारी ने आगे बताया कि भोजन के समस्त विटामिन प्रोटीन कैलोरी आयरन की आवश्यकता को पौष्टिक भोजन ही पूर्ण करते हैं इसलिए पौष्टिक भोजन ही लेना चाहिए। उन्होंने गर्भवती महिलाओं को समय पर जांच कराने एवं आवश्यक टीके लगवाने की भी समझाइश दी । श्रीमती उषा मसीह ने बच्चों के शारीरिक व मानसिक विकास के लिए पर्याप्त मात्रा में पोषण युक्त खाद्य पदार्थ को माता एवं शिशु दोनों के लिए अति आवश्यक बताते हुए जन्म के तुरंत बाद शिशु को स्तनपान कराने व 6 माह तक अनिवार्यतः स्तनपान कराने की भी समझाइश दी । सेक्टर सुपरवाइजर श्रीमती तुलसी पवार ने महिलाओं से भोजन में हमेशा आयोडीन युक्त नमक का ही उपयोग करने एवं कुपोषण को मिटाकर सुपोषण की ओर बढ़ने की सलाह दी। इस दौरान पोषण प्रदर्शनी लगाकर 1 सितंबर से 30 सितंबर तक चल रहे पोषण माह कार्यक्रम को सफल बनाने का आह्वान किया गया। इस अवसर पर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती दीपाली साहू, श्रीमती इंदिरा बारस्कर, श्रीमती चंद्रकला पानबुड़े सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण महिलाएं उपस्थित थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!