सतपुड़ा अधिवक्ता न्याय मंच के अध्यक्ष, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वरिष्ठ अधिवक्ता से एसआईएसएफ के जवानों द्वारा बदसलूकी का आरोप

scn news india

सतपुड़ा थर्मल पावर प्लांट के डेम में एसआईएसएफ के जवानों से हुई बड़ी चूक। सुरक्षा की दृष्टि से उन्हें लोगों को अंदर जाने के लिए मना करने के लिए उनकी ड्यूटी लगी है लेकिन जिन्हें अंदर जाने की परमिशन सिविल विभाग देता है उनके अलावा भी इन्होंने छोटी सी बहस में करीब 40 50 लोगों को भी अंदर जाने दिया और कहा कि हमारे लिए सब बराबर है कोई भी जाए अंदर हम किसी को नहीं रोकेंगे और लगातार लोग बिना परमिशन के गेट खुले हुए हैं लोग अंदर जा रहे हैं ।

एस आई एस एफ के जवानों में एक तिवारी हैं और दो और लोग हैं जिसमें से एक तौलिया और बनियान पर ही महिलाओं से बदतमीजी करने लगा। अंदर जाने वालों ने इन्हें बताएं कि हमने परमिशन ले लिए हैं हमें सिविल के रियाज खान ने परमिशन दी है तो तिवारी का ऐसा कहना है कि हम कोई भी रियाज को नहीं जानते इन्होंने उनकी बात रियाज भाई से फोन पर कराई तो इन्होंने रियाज खान को भी कहा कि हम तुम्हें नहीं जानते कौन हैं ।

हमें तो सिविल के डी ई रोकड़े परमीशन देंगे तभी हम अंदर जाने देंगे इसी बहस में यह तीनों एस आई एस एफ के जवान तैश में आ गए और गेट खोल कर सभी आमजन को भी डैम के अंदर जाने दे रहे हैं और अभी भी डैम के गेट खुले हुए हैं और लोग अंदर आवाजाही कर रहे हैं ।छोटे-छोटे बच्चे महिलाएं पुरुष करीब 40 50 की संख्या में लगातार डैम में विचरण कर रहे हैं और कोई रोक टोक नहीं हो रही है।इससे पहले भी एस आई एस एस के जवानों ने सतपुड़ा थर्मल पावर प्लांट के कई कर्मचारियों से डब्ल्यूसीएल के कर्मचारियों से तथा डब्ल्यूसीएल और सारणी के कई लोगों से मारपीट कर चुके हैं और इस तरह की घटना अब इनके लिए आम हो गई है मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी लिमिटेड ने एस आई एस एफ की टुकड़ियों को पावर प्लांट की डैम की सुरक्षा के लिए तैनात किया है लेकिन यह यहां पर अपनी वर्दी के माध्यम से आमजन तो क्या पत्रकार अधिकारी और सभी लोगों को रौब बता कर दहशतगर्दी फैलाने का काम कर रहे हैं।

नोट – सम्बंधित समाचार का कवरेज विश्वस्त सूत्र द्वारा प्राप्त हुआ है जिसमे डेम पर भीड़ की शक्ल में लोगों का जमावड़ा दिखाई दे रहा है। जिसका वीडियों सुरक्षित है किन्तु प्रतिबंधित क्षेत्र होने एवं सुरक्षा की दृष्टी से उन वीडियों का प्रसारण नहीं किया जा रहा है। – संपादक एससीएन न्यूज इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!