जय किसान फसल ऋण माफी का कार्यक्रम संपन्न ऋण माफी प्रमाण पत्र के साथ भेंट किये पौधे

scn news india

मोहम्मद आज़ाद

अजयगढ़। प्रदेश में सरकार बनाने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ का पहला कार्य किसानों का कर्ज़ माफ़ करना रहा है। और मुख्यमंत्री बनते ही 2 घंटे के अंदर किसान कर्ज माफी की फाइल में दस्खत करते हुये 2 किसानो का 2 लाख तक कर्ज माफ किया जो देश भर मे चर्चा का विषय बना। लोकसभा चुनाव हेतु अचार संहिता में ऋण माफी प्रमाण पत्र बाटने का कार्य रुक गया था। जो हटते ही पुनः प्रमाण पत्र वितरण कार्यक्रम प्रारम्भ हुआ।

शनिवार को अजयगढ़ के प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति में एक कार्यक्रम में नगर के फसल ऋण माफ़ी कार्यक्रम के प्रमाण पत्र बाटे गए। जिन किसानों का ऋण जमा है उन्हें सम्मानित किया गया। फसल ऋण माफ़ी तो हो रही पर सरकार द्वारा जो घोषणा की गई थी उसमें कहा गया था कि जिन किसान ने अपना ऋण जमा किया है उनका भी कर्जा माफ़ किया जायेगा । अधिकारियों की लापरवाही से कई ऐसे किसान भी हैं जिनका कर्ज जमा होने के बाद बैंको के द्वारा खाता बंद कर दिया गया । ऐसी स्थिति में अब वो किसान दर बदर की ठोकर खा रहा है ।

इसमें किसान की क्या गलती । क्या उसे अपनी ईमानदारी की सजा मिल रही है । जनता का सवाल है कि उन किसान के लिये सरकार क्या कर रही । समिति द्वारा ऋण माफी कार्यक्रम के मुख्य अतिथि शिवजीत सिंह (भैया राजा) रहे जिसमे अध्यक्षता रामौतार तिवारी जी ने की ओर संचालन हाकिम सिंह ने की कार्यक्रम में कांग्रेस पार्टी के वरिष्ट कार्यकर्ता प्रेम कुमार पांडे ब्लॉक अध्यक्ष राकेश गर्ग अजयगढ नगर अध्यक्ष अबरार पूर्व पार्षद हसीब खान (रिंकू) भन्नु राजा , युनुश खान ,विशाल यादव ,राकेश सोनी nsui अध्यक्ष आकाश जाटव आईटी सेल जीतू यादव एवं कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता व किसान व गणमान्य नागरिको के साथ समिति प्रबंधक गोविंद सिंह परमार प्रशासक आर के नायक व सहायक उमेश कुमार शुक्ला कम्प्यूटर ऑपरेटर विजय बंगाली मौके में उपस्थित रहे

इनका कहना है 

किसान भाइयों का ऋण माफ होगा जिस किसान भाई को परेशानी हो रही है अजयगढ के
ब्लॉक अध्यक्ष से सम्पर्क करें या नगर अध्यक्ष अबरार से समस्या का समाधान किया जाएगा
शिवजीत सिंह (भैया राजा)

किसान हितैसी सरकार है ऋण माफी योजना किसान हिट की है जिसमे आ रही समस्याओं को खत्म करा कर ऋण माफ कराया जाएगा परंतु कुछ समय लगेगा
कोंग्रेस नगर अध्यक्ष मोहम्मद अबरार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!