लॉकडाउन के प्रतिबंधों का कठोरता से पालन करें सुनिश्चित –कमिश्नर

Scn news india

कामता तिवारी
ब्यूरो सतना
Scn news india

रीवा- रीवा तथा शहडोल संभाग के कमिश्नर डॉ. अशोक कुमार भार्गव ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन के प्रतिबंधों का कठोरता से पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं। संभाग के कलेक्टर तथा पुलिस अधीक्षकों को कोरोना वायरस के रोकथाम के संबंध में उन्होंने कहा है कि भारत सरकार तथा मध्यप्रदेश शासन द्वारा लॉकडाउन की अवधि 3 मई तक बढ़ाने के आदेश दिये जा चुके हैं। इन आदेशों का कठोरता से पालन करायें। देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने लॉकडाउन के संबंध में 14 अप्रैल को देश की जनता के नाम संबोधन में लॉकडाउन से जुड़े सात बिन्दुओं पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिये दिये हैं। सभी अधिकारी इन सात बिन्दुओं पर पूरा ध्यान दें। आमजन भी प्रधानमंत्री जी द्वारा सुझाये गए सात बिन्दुओं का पालन करें।
कमिश्नर ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के निर्देशों के अनुसार लॉकडाउन की अवधि में घर के बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें। यदि घर का बुजुर्ग किसी गंभीर रोग से ग्रस्त है तो उसका विशेष ध्यान रखें। लॉकडाउन की अवधि में सोशल डिस्टेंसिंग की लक्ष्मण रेखा का पालन करें। सभी लोग घर में रहने का प्रयास करें। बाहर निकलने पर मास्क का उपयोग अनिवार्य रूप से करें। प्रधानमंत्री जी ने प्रत्येक व्यक्ति से अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का आह्वान किया है। इसके लिए आयुष विभाग द्वारा सुझायें गये काढ़ा तथा गर्म पानी का सेवन करें।
कमिश्नर ने कहा है कि प्रधानमंत्री जी ने सभी से आरोग्य सेतु मोबाइल एप डाउनलोड करने की अपील की है। इससे कोरोना का संक्रमण रोकने में सहायता मिलती है। प्रधानमंत्री जी ने घर के आसपास के गरीबों तथा जरूरतमंदों की सहायता की भी अपील की है। लॉकडाउन की अवधि में सभी व्यावसायिक अपने कारखानों एवं दुकानों में कार्य करने वाले किसी भी व्यक्ति को नौकरी से न निकाले तथा उनके प्रति संवेदना रखते हुए संकट में उनकी सहायता करें। प्रधानमंत्री जी ने कोरोना वायरस से संघर्ष कर रहे डॉक्टर, नर्स, पुलिस कर्मी तथा मीडिया कर्मी जैसे कोरोना योद्धाओं का सम्मान करने की भी अपील की है। प्रधानमंत्री जी के निर्देशों का पालन सुनिश्चित करें।
कमिश्नर डॉ. भार्गव ने कहा कि लॉकडाउन की अवधि में आमजनता के लिए आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करायें। दूध, दवा, फल, सब्जी तथा किराना जैसे अति आवश्यक वस्तुओं की आमजनता को आपूर्ति सरलता से हो सके इसके लिए विशेष प्रबंध करें। जिले की सीमाएं पूरी तरह से बंद रखें। बिना उचित कारण तथा अनुमति के कोई भी व्यक्ति जिले में प्रवेश न करें। लॉकडाउन तथा धारा 144 (1) के तहत जारी आदेशों को कठोरता से लागू करायें। इनका उल्लंघन करने वालों के विरूद्ध आपदा प्रबंधन एक्ट 2005 दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 188 तथा महामारी अधिनियम की धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर कार्यवाही करें।
खाद्यान्न वितरण के लिए उचित मूल्य की दुकानें खुली रहेंगी – कमिश्नर
कमिश्नर रीवा संभाग डॉ. अशोक कुमार भार्गव ने निर्देश दिये हैं कि कोविड-19 की लॉकडाउन अवधि में उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से हितग्राहियों को खाद्यान्न सामग्री वितरित करने हेतु सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत उचित मूल्य की दुकानें खुली रहेंगी।
कमिश्नर डॉ. भार्गव ने कहा है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत शामिल पात्र हितग्राहियों को मार्च, अप्रैल एवं मई 2020 तीन माह का एक मुश्त खाद्यान्न, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना अन्तर्गत अप्रैल एवं मई 2020 का चावल का आवंटन अग्रिम रूप से जारी कर दिया गया है। समग्र सामाजिक सुरक्षा मिशन के पोर्टल पर दर्ज पात्रता श्रेणी के ऐसे हितग्राही जिनके पास पात्रता पर्ची नहीं है उनको खाद्यान्न का वितरण उचित मूल्य की दुकान के माध्यम से सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने निर्देश दिये कि खाद्यान्न के वितरण के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग एवं अन्य सावधानियों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाय।