निजी होटलों की जानकारी भी मध्यप्रदेश पर्यटन की वेबसाइट पर होगी उपलब्ध

Scn news india

मनोहर 

इंदौर-पर्यटन सचिव श्री फैज अहमद किदवई ने कहा है कि प्रदेश के निजी होटलों की जानकारी भी अब मध्यप्रदेश पर्यटन की वेबसाइट पर उपलब्ध करायी जायेगी। निकट भविष्य में पर्यटकों की सुविधा के लिये हेलिकॉप्टर सुविधा का भी प्रावधान होगा। पिछले एक दशक में पर्यटकों की संख्या में चार गुना वृद्धि हुई है। फिल्म स्त्री आने के बाद चंदेरी में 50 हजार पर्यटक आये। प्रदेश में फिल्म टूरिज्म प्रोत्साहन के लिये विशेष रूप से फिल्म पॉलिसी लायी जा रही है। मार्ग सुविधा केन्द्रों की स्थापना तथा पुरातत्व विभाग की ऐतिहासिक इमारतों, डाक बंगलों और विलक्षण शासकीय भवनों को होटल के रूप में विकसित करने पर भी काम जारी है। श्री अहमद मैग्नीफिसेंट मध्यप्रदेश निवेश सम्मेलन में पर्यटन की संभावनाओं पर सत्र को सम्बोधित कर रहे थे।

      श्री किदवई ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ पर्यटन को आर्थिक गतिविधि का बढ़ा स्त्रोत मानते हैं। उनके मार्गदर्शन में पर्यटन नीति को सरल, सुगम तथा सभी संबंधितों के लिये लाभदायक बनाने के उद्देश्य से व्यापक संशोधन किये गये हैं। जल पर्यटन, ईको एण्ड एडवेंचर टूरिज्म, हेरिटेज टूरिज्म, वाइल्ड लाइफ रिसार्ट के लिये व्यवस्थाओं को सुगम बनाया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में ग्रामीण पर्यटन को विकसित करने के लिये प्रारंभिक रूप से 20 ग्रामों का चयन किया गया है। श्री किदवई ने प्रदेश में विद्यमान पर्यटन सुविधाओं और नीतियों तथा भविष्य की योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि पर्यटन विकास के लिये निजी पहल को भी राज्य शासन द्वारा प्रोत्साहन दिया जायेगा।

म.प्र. की पर्यटन नीति देश में सर्वश्रेष्ठ : आईटीसी के निदेशक श्री आनंद

आईटीसी लिमिटेड के कार्यकारी निदेशक श्री नकुल आनंद ने मध्यप्रदेश की पर्यटन नीति को देश में सर्वश्रेष्ठ बताया। उन्होंने सुझाव दिया कि होटल गतिविधि को प्रोत्साहित करने के लिये राज्य शासन को उपयुक्त भूमि लीज पर उपलब्ध कराने की नीति अपनाना चाहिये। श्री आनंद ने कहा कि होटल गतिविधि में भविष्य में विस्तार की संभावना बहुत अधिक है।

भोपाल में आरंभ होगा ताज होटल

इंडियन होटल्स कंपनी लिमिटेड की एक्जीक्यूटिव वाइस प्रेसीडेंट सुश्री सूमा वेंकटेश ने जानकारी दी कि शीघ्र ही ताज समूह भोपाल में 150 कमरों का लक्जरी होटल आरंभ करने जा रहा है। समूह की वर्तमान में 6 इकाइयाँ प्रदेश में संचालित हैं। सुश्री वेंकटेश ने राज्य शासन द्वारा पर्यटन नीति में किये जा रहे संशोधन और पर्यटन के क्षेत्र में किये जा रहे नवाचारों को समयानुकूल बताया।

      सत्र में हेरिटेज होटल के साथ-साथ लोक कला गतिविधियों को विकसित करने, निजी होटल समूहों द्वारा अपनी पहचान बनाये रखने और पर्यटकों को आकर्षिक करने के लिये निरन्तर नवाचार तथा पहल करने संबंधी सुझाव भी प्राप्त हुए। स्त्रोत व्यक्तियों द्वारा प्रश्नों के उत्तर भी दिये गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

All rights reserved by "scn news india" copyright' -2007 -2019 - (Registerd-MP08D0011464/63122/2019/WEB)  Toll free No -07097298142
जनस
error: Content is protected !!