लॉकडाउन का करें पालन तथा सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर रखें – कमिश्नर रीवा

Scn news india

कामता तिवारी
ब्यूरो सतना
Scn news india

रीवा -कमिश्नर रीवा संभाग डॉ. अशोक भार्गव ने कोरोना वायरस के नियंत्रण एवं बचाव की संभागीय समीक्षा बैठक में लोगों से अपील की कि वे लॉकडाउन का पूर्णत: पालन करें और सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर रखें। प्रत्येक व्यक्ति से एक मीटर की दूरी बनाकर रखें। आवश्यक सामग्री लेने हेतु घर से बाहर जाना हो तो अकेले ही मास्क लगाकर जाएं तथा घर पर रहने के दौरान हाथों को बार-बार साबुन से धोयें या सेनिटाइज करें। सामान्य सर्दी जुकाम होने पर कंट्रोल रूम से सम्पर्क करें। किसी भी दशा में अफवाहों पर ध्यान न दें। कोरोना के 80 प्रतिशत मरीज स्वयं ही बिना दवा के ठीक हो जाते हैं। जिन्हें ब्लड प्रेशर, सुगर या क्रानिक बीमारियां हैं वे सर्दी खांसी होने पर चिकित्सक की सलाह लें।
कमिश्नर डॉ. भार्गव द्वारा समीक्षा के दौरान बताया गया कि रीवा संभाग में अब तक 29226 व्यक्तियों की मेडिकल जांच की जा चुकी है। इनमें से 45 केस के सेम्पल भेजे गये हैं। अब तक 35 की रिपोर्ट प्राप्त हो चुकी है जिन्हें क्वारेंटाइन के लिए सलाह दी गई है। रीवा संभाग में कोरोना पीड़ित मरीजों के लिए 308 आइसोलेशन बेड आरक्षित किये गये हैं। 29 वेंटीलेटर तथा 72 आईसीयू बेड के साथ क्वारेंटाइन के स्थान हेतु 600 बेड आरक्षित किये गये हैं। रीवा जिले में कोरोना मरीजों के लिए 250 आईसोलेशन बेड आरक्षित किये गये हैं। 22 वेंटीलेटर तथा 50 आईसीयू बेड आरक्षित हैं। सतना जिले में 40 आईसोलेशन बेड, 4 वेंटीलेटर तथा 10 आईसीयू बेड आरक्षित हैं। सीधी जिले में 16 आईसोलेशन बेड एक वेंटीलेटर तथा 4 आईसीयू बेड आरक्षित किये गये हैं। सिंगरौली जिले में 4 आईसोलेशन बेड, दो वेंटीलेटर तथा 8 आईसीयू बेड आरक्षित हैं। इसके साथ ही मेडिकल स्टॉफ के लिए पीपीई किट तथा एन-95 मास्क एवं मेडिकल मास्क पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि प्रत्येक जिले में रैपिड रिस्पांस टीम, मोबाइल टीम तथा टेली कान्फ्रेंसिंग की सुविधा उपलब्ध है। यदि किसी व्यक्ति को सर्दी जुकाम खांसी की शिकायत है तो टेली कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से घर बैठे डॉक्टर से सम्पर्क कर दवाइयां ले सकते हैं तथा 14 दिन तक घर में रहें। यदि कोई व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मरीज के सम्पर्क में आया हो या विदेश भ्रमण किया हो तो स्वयं कंट्रोल रूम में सम्पर्क कर 14 दिन क्वारेंटाइन कर रिपोर्ट प्राप्त कर सकते हैं। जिससे उस क्षेत्र का सेनेटाइजेशन कराया जा सके।

रीवा एवं शहडोल संभाग में नहीं मिला कोई भी कोरोना से संक्रमित व्यक्ति

रीवा एवं शहडोल संभाग में कोरोना जांच के सभी परिणाम आये निगेटिव – डॉ. भार्गव

रीवा एवं शहडोल संभाग के कमिश्नर डॉ. अशोक कुमार भार्गव ने बताया कि रीवा एवं शहडोल संभाग में कोरोना वायरस से कोई भी व्यक्ति संक्रमित नहीं पाया गया। संभाग के सभी चिकित्सकों को कोरोना वायरस के लिए एलर्ट रहने के निर्देश दिए गए। बताया कि संक्रमण को रोकने के लिए प्रभावी इंतजाम किये गये हैं। संभाग के प्रत्येक जिले में लॉकडाउन घोषित कर लोगों को अपने घरों से बाहर न निकलने तथा सोशल डिस्टेंसिंग बनाने की सलाह दी गई है। अति आवश्यक सामग्री को खरीदने के लिए समय निर्धारित कर दिया गया है। सीमावर्ती जिलों की दूसरे राज्यों से मिलने वाली सीमायें सील कर दी गई हैं जिसके अच्छे परिणाम आने प्रारंभ हो गये हैं। जिलों में बाहर से आने वाले एवं विदेश यात्रा से लौटने वाले लोगों पर मेडिकल टीम पूरी तत्परता के साथ निगाह रखे हुए है। रीवा एवं शहडोल संभाग में अब तक 45 हजार 395 व्यक्तियों की मेडिकल जांच की जा चुकी है। इसमें से 49 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए हैं। भेजे गए सेम्पलों में कोई भी पॉजिटिव रिपोर्ट नहीं आई है। 37 सेम्पल निगेटिव पाये गये हैं।
कमिश्नर डॉ. अशोक कुमार भार्गव ने बताया कि रीवा संभाग में अब तक 29 हजार 226 व्यक्तियों की मेडिकल जांच की गई। 45 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए जिसमें से 35 सेम्पल की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। एक भी सेम्पल पॉजिटिव नहीं आया है। रीवा जिले में 7344 व्यक्तियों की मेडिकल जांच कर 7 सेम्पल भेजे गये। इसमें से सभी सेम्पल की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। सतना जिले में 8926 व्यक्तियों की मेडिकल जांच की गई। इसमें से 14 सेम्पल जांच हेतु भेजे गये। 13 सेम्पल की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। सीधी जिले में 8581 व्यक्तियों की मेडिकल जांच की गई जिसमें से 5 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए। तीन सेम्पल की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। सिंगरौली जिले में 4375 व्यक्तियों की मेडिकल जांच की गई जिसमें से 19 के सेम्पल जांच के लिए भेजे गए। इन सेम्पलों में 12 की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है।
उन्होंने बताया कि शहडोल संभाग में अब तक 16 हजार 169 व्यक्तियों की मेडिकल जांच की गई जिसमें से 4 के सेम्पल जांच हेतु भेजे गए। जिसमें से दो के सेम्पल निगेटिव आये हैं। शहडोल जिले में 4692 व्यक्तियों की मेडिकल जांच की गई जिसमें से 4 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए। अब तक दो सेम्पल की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। अनूपपुर जिले में 5965 व्यक्तियों की मेडिकल जांच की गई है। उमरिया जिले में 5512 व्यक्तियों की मेडिकल जांच की गई है।

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए रीवा एवं
शहडोल संभाग में मेडिकल सुविधाएं तैयार – कमिश्नर

. रीवा एवं शहडोल संभाग के कमिश्नर डॉ. अशोक कुमार भार्गव ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं प्रभावित मरीजों की चिकित्सा एवं उन्हें आईसोलेट तथा क्वारेंटाइन करने की तैयारियां मेडिकल विभाग द्वारा तत्परता पूर्वक पूर्ण कर ली गई हैं। रीवा एवं शहडोल संभाग में मेडिकल कालेजों एवं जिला अस्पतालों में 352 आईसोलशन वार्ड में बेड की व्यवस्थाएं की गई हैं। इसी प्रकार यहां 31 वेंटीलेटर तैयार किये गये हैं। आईसीयू में 92 बेड आरक्षित किये गये हैं। 217 ट्राइवेट सूट आरक्षित किये गये हैं। संभाग के जिलों में 61 नॉन कान्टेक्ट थर्मामीटर, 2187 पीपीई किट, 9484 मास्क एन-95 तथा 187600 मेडिकल मास्क, 1797 व्हीटीएम किट उपलब्ध है। मरीजों को क्वारेंटाइन करने के लिए 1012 बेड आरक्षित किये गये हैं।
कमिश्नर डॉ. भार्गव ने बताया कि रीवा जिले में क्वारेंटाइन करने के लिए पीटीएस में 400 बेड तथा डिहिया अस्पताल में 12 बेड, सतना जिले में जीएनएम नर्सिग ट्रेनिंग सेंटर में 100 बेड, सीधी जिले में एएनएम ट्रेनिंग सेंटर में 125 बेड तथा सिंगरौली जिले में गल्र्स हास्टल में 100 बेड आरक्षित किये गये हैं। इसी प्रकार शहडोल संभाग के शहडोल जिले में एएनएम ट्रेनिंग सेंटर में 100 बेड, अनूपपुर में एएनएम ट्रेनिंग सेंटर में 110 बेड तथा सकरा पीएचसी में 5 बेड आरक्षित किये गये हैं। उमरिया जिले में गल्र्स हास्टल में 50 बेड तथा पीएचसी पाली में 10 बेड आरक्षित हैं।

महिला हितग्राहियों के खाते में 500 रूपये जमा – आज से निकाल सकेंगी राशि
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण एवं प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत महिला हितग्राहियों के खाते में अप्रैल माह की राशि 500 रूपये प्रति खाते के मान से राशि दो अप्रैल को जमा कर दी गई है। उक्त राशि को महिला हितग्राही अपने खाते से आहरण हेतु खाते की अंतिम संख्या के आधार पर आगामी तिथियों में आहरित कर सकती हैं।
बताया गया है कि जिनके खाते के नम्बर की अंतिम संख्या शून्य या एक है वे महिलाएं 3 अप्रैल को, जिनके खाते के नम्बर की अंतिम संख्या दो या तीन है वे 4 अप्रैल को, जिन महिला हितग्राहियों के खाते की अंतिम संख्या 4 या 5 है वे 7 अप्रैल को, जिन महिला हितग्राहियों के खाते की अंतिम संख्या 6 या 7 है वे 8 अप्रैल को तथा जिन महिला हितग्राहियों की खाते की अंतिम संख्या 8 या 9 है वे 9 अप्रैल को अपने खाते से राशि आहरित कर सकती हैं। जिन महिलाओं के प्रधानमंत्री जनधन योजना के बैंक खाते हैं वही महिलाएं राशि आहरित कर सकती है।